DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महिलाएं 17 को रखेंगी करवा चौथ का व्रत

अपने पति की दीर्घायु की कामना के साथ सुहागिनें 17 अक्तूबर को करवाचौथ का व्रत रखेंगी। इस दिन सुहागन पूर दिन निर्जला व्रत रखेंगी और शाम को चांद देखने के बाद व्रत तोड़ेंगी। व्रती द्वारा चांद को चलनी से देखने की प्रथा है। व्रत रखने वाली महिलाएं अपनी सुहागन सास या जेठानी या फिर अन्य बड़ी ननद से मिले वस्त्र एवं श्रंगार के सामानों को धारण कर पूर दिन व्रत रखेंगी। इस पर्व को लेकर बाजारों में चहल-पहल शुरू हो गई है। खासकर कपड़े, जेवरात व श्रंगार प्रसाधन की दुकानों पर भीड़ जुट रही है।ड्ढr ड्ढr व्रत को लेकर हथुआ माकर्ेेट, पटना माकर्ेेट, खेतान माकर्ेेट, बोरिंग रोड, कंकड़बाग व राजाबाजार में साड़ी, सलवार सूट, गहने एवं श्रंगार के सामानों की ब्रिकी में तेजी आ गयी है। कंकड़बाग स्थिति जलान शॉप के मालिक विष्णु जलान ने बताया कि करवा चौथ को लेकर पंजाबी महिलाएं इटालियन क्रेप पर वर्क की हुई साड़ी की खरीददारी कर रही है तो मारवाड़ी महिलाएं जॉरोट साड़ियों पर विशेष ध्यान दे रही हैं। बोरिंग रोड स्थित सेविका ज्वेलर्स के मालिक पवन खेमका ने बताया कि इस पर्व को लेकर बिक्री बढ़ी है। उन्होंने कहा कि राजधानी में अब धीर-धीर अन्य समाज की सुहागन महिलाओं ने भी यह व्रत रखना शुरू कर दिया है।ड्ढr ड्ढr खासकर दिल्ली एवं उत्तर प्रदेश से बिहार आकर बसीं महिलाएं विशेष तौर पर यह व्रत करती है। खरीददारों में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो एक साथ कई कपड़े खरीद रहे हैं। प्रीति छावड़ा ने बताया कि जिन महिलाओं की सुहागन बेटी की पहली करवाचौथ होती है उन्हें अपनी बेटी के साथ-साथ उनके ससुराल के सभी सदस्यों के लिए भी कपड़ा खरीदना पड़ता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: महिलाएं 17 को रखेंगी करवा चौथ का व्रत