अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जी हां, एक दिन में पासपोर्ट!

अब वह दिन हवा होने वाले हैं जब पासपोर्ट हासिल करने के लिए लंबा इंतजार और तमाम औपचारिकताएं पूरी करने के लिए चक्कर लगाने पड़ते थे। सरकार टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज को पासपोर्ट बनाने का एक हाार करोड़ रुपये का ई-प्रोजेक्ट दिया है जिसके तहत पुलिस वेरिफिकेशन पूरी होने के बाद महा तीन दिनों में पासपोर्ट आपके हाथ में होगा। इतना ही नहीं, तत्काल स्कीम के तहत यदि पासपोर्ट के लिए आवेदन किया जाए तो सिर्फ एक दिन में ही पासपोर्ट मिल सकता है। विदेश मंत्रालय ने इस कार्य के लिए निजी कंपनी टीसीएस से समझौता किया है। यह जानकारी यहां विदेश सचिव शिव शंकर मेनन ने दी।ड्ढr ड्ढr नई योजना लागू होने से पासपोर्ट बनाने के लिए मौजूदा 345 काउंटरों की संख्या बढ़ कर चार गुना यानी 1250 हो जाएगी। पायलट योजना के रूप में चेन्नई और बेंगूलुरू में इसे अगले साल से और पूर देश में 2010 से चालू किया जाएगा। यह प्रक्रिया ऑन लाइन होगी।ड्ढr टीसीएस के सीईओ और प्रबंध निदेशक एस.रामादोराई ने बताया कि टीसीएस शुरू से आखिर तक पासपोर्ट तैयार करने और डिलिवर करने का काम करगा। विदेश मंत्रालय चाहता है कि पुलिस वेरिफिकेशन पूरी होने के बाद तीन कार्य दिवसों में पासपोर्ट जारी कर दिया जाए। तत्काल योजना के तहत भी वेरिफिकेशन के बाद एक दिन में ही पासपोर्ट दे दिया जाएगा। पुलिस और पासपोर्ट आफिस के बीच सुरक्षित ऑनलाइन के जरिए संपर्क रहेगा। टीसीएस देश भर में 2010 तक 77 नए पासपोर्ट केन्द्रों की स्थापना करगा जो पूरी तरह कंप्यूटराइज्ड होंगे। शिव शंकर मेनन ने कहा कि पासपोर्ट जारी करने की अनुमति का अधिकार सरकार को होगा जबकि इन्हें तैयार करने और डिलिवर करने का काम टीसीएस करगा। टीसीएस को इससे पहले कार्पोरट मामलों के मंत्रालय से एमसीए-21 आन लाइन कंपनी रािस्ट्रेशन का काम मिला था। ई-पासपोर्ट का काम बाय-ओन-ऑपरट-ट्रांसफर (बूट) ढांचे के तहत किया जाएगा। पायलट प्रोजेक्ट 1महीनों में करना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जी हां, एक दिन में पासपोर्ट!