DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिटी बस सेवा शुरू नहीं, कोर्ट का रुख कड़ा

रांची में सिटी बस सर्विस के काम नहीं करने को हाइकोर्ट ने गंभीरता से लिया है। कोर्ट ने कहा है कि इस मामले में कोर्ट की ओर से मांगे गये जवाब के बाद परिवहन विभाग ने कोई शपथपत्र दाखिल नहीं किया है और सिर्फ समय की मांग की जा रही है। विभाग द्वारा यह नहीं बताया जा रहा है कि यह सेवा शुरू क्यों नहीं हो रही है? जस्टिस एमवाइ इकबाल और जस्टिस डीके सिन्हा की कोर्ट ने परिवहन विभाग को इस संबंध में 18 अक्तूबर तक शपथपत्र दाखिल करने का अंतिम मौका दिया है।ड्ढr कोर्ट ने कहा है कि यदि उक्त तिथि तक शपथपत्र दाखिल नहीं किया गया, तो कोर्ट इसे गंभीरता से लेगा और संबंधित अधिकारियों के खिलाफ सख्त आदेश पारित करगा।ड्ढr अपने आदेश में कोर्ट ने ज्यूडिशियल नोटिस लेते हुए कहा है कि रांची में दूसर स्थान से लोग भारी संख्या में आते हैं। इनमें मजदूरी करनेवाले भी होते हैं। सिटी बस नहीं रहने के कारण ये लोग ट्रकों और अन्य वाहनों पर आते हैं। वाहनों में ओवर लोडिंग भी होती है। कई बार दुर्घटनाएं होती हैं। लोग मरते भी हैं और घायल भी होते हैं। लेकिन इन्हें उचित मुआवजा तक नहीं मिल पाता। इस कारण सरकार को अपने स्तर से परिवहन व्यवस्था लागू करनी चाहिए। कोर्ट ने परिवहन आयुक्त को इसके लिए 18 अक्तूबर तक जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सिटी बस सेवा शुरू नहीं, कोर्ट का रुख कड़ा