DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आखिर सरंडर बोल गए मंत्रीजी

तबादलों को रद्द नहीं किए जाने पर अड़े शिक्षा मंत्री हरिनारायण सिंह आखिरकार सरंडर बोल गए। उन्हें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कड़े रुख के आगे झुकना पड़ा। अंतत: गुरुवार को शिक्षा विभाग के 475 अधिकारियों का तबादला रद्द कर दिया गया। सितम्बर में ही इन अधिकारियों की ट्रांसफर-पोस्टिंग हुई थी। जिन अधिकारियों का तबादला रद्द किया गया है वे सभी अवर सेवा संवर्ग के हैं। मानव संसाधान विकास विभाग ने अधिकारियों का तबादला रद्द किए जाने का आदेश जारी कर दिया है। अब ये सभी अधिकारी अपने पुराने पदों पर लौटेंगे।ड्ढr ड्ढr इनमें से 133 ऐसे अधिकारी हैं जिन्हें निम्न शिक्षा सेवा संवर्ग से अवर शिक्षा सेवा संवर्ग में प्रोन्नति दी गयी थी। वहीं 137 ऐसे अधिकारी है जिन्हें नव सृजित 137 प्रखण्डों में प्रखण्ड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी बनाया गया था। इसके अलावा उपाधीक्षक, प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय में व्याख्याता और बुनियादी विद्यालय में प्रधानाध्यापक आदि समकक्ष पदों पर स्थानांतरण और पदस्थापन किया गया था। अब सभी पदाधिकारियों को अपने पूर्व के पदस्थापन स्थान पर अविलंब योगदान करने का आदेश दिया गया है। पदाधिकारी जो नए पदस्थापन स्थान पर योगदान नहीं कर पाए हैं वे पूर्व के पदस्थापन स्थान पर ही बने।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आखिर सरंडर बोल गए मंत्रीजी