DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंत्री की चाहरदीवारी तोड़ी

पुलिस सुरक्षा में आबकारी मंत्री जमशेद अशरफ के आवास की चहारदीवारी का निर्माण कराना जिला प्रशासन को तब महंगा पड़ा जब आक्रोशित लोगों ने जोड़ी गई चहारदीवारी ध्वस्त कर दी और उक्त स्थल पर पूजा शुरू कर दी। बताया जाता है कि आबकारी मंत्री के आवासीय चहारदीवारी से सटे स्थल पर वर्ष 1से श्रीकृष्णाष्टमी की पूजा होती रही है और इस वर्ष वहां नगर दुर्गा पूजा महासमिति की ओर से दुर्गा की प्रतिमा बनाकर दुर्गापूजा भी की गई थी। उक्त स्थल को आबकारी मंत्री के परिानों ने आवासीय परिसर में लेने के लिए चहारदीवारी का निर्माण शुरू किया।ड्ढr ड्ढr इसके लिए गुरूवार को जिला प्रशासन ने वहां दंडाधिकारी प्रतिनियुक्त कर पुलिस बल की तैनाती कर दी थी। चहारदीवारी जोड़े जाने की सूचना पर धीर-धीर लोग वहां एकत्र होने लगे। पहले तो वहां मौजूद दंडाधिकारी अशोक कुमार व पुलिस बल ने भीड़ को खदेड़ दिया पर चहारदीवारी पूर्ण होने से पहले ही लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। वहां मौजूद महिलाओंे, बच्चे व लोगों की भीड़ ने जोड़ी गई चहारदीवारी ध्वस्त कर दी और वहां पूजा अर्चना शुरु कर दी। जिलाधिकारी संजीव हंस ने बताया कि उन्होंने वहां कोई दंडाधिकारी तैनात नहीं किया था और यह भूमि विवाद का मामला है जो न्यायालय में सुलझाया जाएगा। उन्होंने मामले की गंभीरता को देखते हुए रात लगभग बजे अनुमंडल अधिकारी को घटनास्थल पर भेजा है। दूसरी ओर वहां लोगों की भीड़ डटी है और पुलिस स्थिति को नियंत्रित करने की कोशिश कर रही है। इसको लेकर यहां तनाव व्याप्त है। ड्ढr बंधक बना दलित मजदूर को पीटाड्ढr शेखपुरा (नि.सं.)। सरकार भले ही बिहारियों के पलायन को रोकना चाहती है परंतु कुछ दबंग ऐसे हैं जो पुलिस-प्रशासन को धत्ता बताने में लगे हैं। जिले के कोयरीबिगहा गांव में दलित मजदूर अरुण रविदास को कमर में बंद कर महज इस कारण पिटाई की गयी कि उसने ईंट-भट्ठे पर काम करने के लिए हरियाणा जाने से इंकार कर दिया। घायल मजदूर को इलाज के लिए बरबीघा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। माउर गांव निवासी अरुण रविदास को ईंट-भट्ठे पर काम करवाने के लिए ठेकेदार द्वारा हरियाणा ले जाने का प्रयास किया जा रहा था। मजदूर द्वारा विरोध करने पर उसे घंटो कमर में बंद कर पिटाई की गयी। इस मामले में मजदूर ने ठेकेदार तनिक राम को अभियुक्त बनाते हुए प्राथमिकी दर्ज करायी है। पुलिस ने बताया कि मजदूर को हरियाणा ले जाने के लिए पांच हजार रुपए में सौदा तय हुआ था। उक्त राशि में से 15 सौ रुपए का भुगतान कर दिया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मंत्री की चाहरदीवारी तोड़ी