DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंदी ने लीं 2700 और नौकरियाँ

मंदी की महामारी में नौकरियाँ लीलने वालों की सूची में भारत, अमेरिका और लंदन समेत दुनिया की कईोानी-मानी कंपनियों के नामोुड़ गए हैं। शुक्रवार को कुछ कंपनियों ने सेवा समाप्त करने की घोषणाोहाँ तत्काल प्रभाव से लागू कर दी वहीं कुछ ने कहा - धीर-धीर अपना स्टाफ कम करंगे।ड्ढr पांाब में आईटी सेा विकसित कर रही अमेरिकी कंपनी क्वार्कसिटी ने चंडीगढ़ में अपने 100 कर्मचारियों की छुट्टी करने का ऐलान किया है। कंपनी अब तक 400 लोगों को बाहर कर चुकी है। कंपनी प्रवक्ता गुरमोहन सिंह ने इस बात की पुष्टि की है कि शुक्रवार को बाहर किए गए लोगों में इांीनियर भी शामिल हैं।ड्ढr टाटा ग्रुप की विदेशी मूल की कंपनियाँ- कोरस औरोगुआर लैण्ड रोवर्स भी मंदी की मार से त्रस्त हैं। कोरस ने कहा है कि चूँकि इस समय दुनिया में स्टील की माँग कम हो गई है लिहा हम भी स्टील उत्पादन कम कर रहे हैं। लेकिन इसी ग्रुप कीोगुआर के पास 1र्मचारियों को बाहर करने के अलावा कोई रास्ता नहीं है। कंपनी स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना लाई है। इस योना में कर्मचारियों को नौ माह की तनख्वाह और 60 साल से ऊपर के लोगों को पेंशन दीोाएगी।अमेरिका की कंपनीोनरल मोटर्स अक्तूबर 2008 सेोनवरी 200े बीच कुल 100 कर्मचारियों की छुट्टी करगी। इनमें से 1000 लोग मिशिगन स्थित ट्रक प्लांट से, 500 लोग डेट्राएट स्थितोीम सीडान संयंत्र से और डेलावेयर स्थित स्पोर्ट्स कार संयंत्र से 400 लोगों की छुट्टी होोाएगी। स्टॉकहोम में विमान निर्माता कंपनी सैब ने कहा है कि वह वर्ष 200से 2011 के बीच 500 लोगों की छँटनी करगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मंदी ने लीं 2700 और नौकरियाँ