DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कश्मीर में समय पर चुनाव के संकेत

जम्मू कश्मीर में चुनाव निर्धारित समय पर होने तथा अगले सप्ताह चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के संकेत हैं। आयोग ने राय सरकार से वहां चुनाव तैयारियों के बारे में आगामी सोमवार तक एक रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं। संकेत हैं कि वहां तीन चरणों में चुनाव होंगे। आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार मौजूदा स्थितियों के अनुसार वहां चुनाव निर्धारित अवधि में कराए जा सकते हैं। गौरतलब है कि राय में राष्ट्रपति शासन की अवधि नौ जनवरी को समाप्त हो रही है। इस सप्ताह पांच रायों में चुनाव कार्यक्रमों की घोषणा के साथ जम्मू कश्मीर चुनाव कार्यक्रमों की घोषणा नहीं होने से ऐसी अटकलें लगाई गईं थीं कि वहां चुनाव टाले जाएंगे। आयोग के सूत्रों के अनुसार राय में चुनाव कराए जाने को लेकर मुख्य चुनाव आयुक्त तथा दोनों चुनाव आयुक्तों के बीच प्रांरभ में एक राय नहीं होने के बाद पूर्ण चुनाव आयोग में अब वहां चुनाव निर्धारित अवधि में कराए जाने पर सहमति उभर रही है। इसके साथ ही आयोग में शुक्रवार को सात रायों के मुख्य चुनाव अधिकारियों ने आयोग के साथ एक बैठक में जम्मू कश्मीर चुनावों के लिए आवश्यक अतिरिक्त चुनाव कर्मचारी उपलब्ध कराने के आश्वासन के बाद अब वहां चुनाव निर्धारित अवधि पर कराए जाने की संभावना प्रबल हो गई है। बिहार, मध्यप्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश तथा दिल्ली के शीर्ष चुनाव अधिकारियों ने इस बैठक में हिस्सा लिया था। सूत्रों के अनुसार आयोग ने राय सरकार से पूछा था कि वहां कुछ स्थानीय स्टाफ द्वारा चुनाव प्रक्रिया में सहयोग नहीं किए जाने की किसी आशंका के दृष्टिगत क्या वह अपने स्टाफ के सहयोग से चुनाव कराए जाने में सक्षम है अथवा वह दूसरे रायों के चुनाव स्टाफ की मदद लिए जाने की आकस्मिक योजना बनाने पर विचार कर रहा है। गौरतलब है कि राय के मुख्य सचिव ने पिछले सप्ताह आयोग के साथ एक बैठक में आशंका जताई थी कि वहां का कुछ स्थानीय चुनाव स्टाफ अलगाववादियों द्वारा चुनाव के बहिष्कार की धमकियों की आशंकाआें के मद्देनजर चुनाव डय़ूटी से दूर रहने की कोशिश कर सकते है। चुनाव आयोग जहां निर्धारित समय पर चुनाव कराए जाने के प्रति आशान्वित है वहीं राय के राजनीतिक दलों के बीच अभी इस बारे में पूर्ण सहमति नहीं बन पाने पर आयोग चिंतित है। राज्य के अलग-अलग राजनीतिक दलों का चुनाव को लेकर अलग-अलग रुख है। ऐसे संकेत हैं कि इन सातों रायों को आयोग ने राय में उर्दूभाषी चुनाव स्टाफ उपलब्ध कराने का संकेत दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कश्मीर में समय पर चुनाव के संकेत