अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घटते दर्शकों से आईसीसी चिंतित

एक तरफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल 20-20 को प्रोमोट करने में लगी है दूसरी ओर उसे टेस्ट क्रिकेट की चिंता भी सता रही है। टेस्ट क्रिकेट में लगातार कम होती दर्शकों की संख्या आईसीसी की चिंता का प्रमुख कारण है। सचिन तेंदुलकर जसा क्रिकेट का महानायक जब अपने ही देश में खेल रहा हो और जिस टेस्ट में उनके नाम एक के बाद एक कई रिकॉर्ड बन रहे हों उसे टेस्ट को देखने के लिए भी जब दर्शक मौजूद नहीं होंगे तो यह आईसीसी ही नहीं हर क्रिकेट खेलने वाले देशों के लिए चिंता का विषय है। यही कारण है कि आईसीसी की चीफ एक्ाीक्यूटिव ऑफीसर हारून लोर्गट इसको लेकर चिंतित नजर आए। उन्होंने कहा, ‘टेस्ट मैचों में घटती क्रिकेटप्रेमियों की कमी हमार लिए चिंता का कारण है। आईसीसी हर हाल में टेस्ट क्रिकेट की प्रमुखता को बनाए रखना चाहती है। हम चाहते हैं कि टेस्ट क्रिकेट की और ज्यादा ध्यान दिया जाए।’ लोर्गट ने कहा, ‘यह हमार लिए भी बड़ी चुनौती है। 20-20 क्रिकेट में लोगों का आकर्षण कुछ ज्यादा ही है। इस आकर्षण को टेस्ट क्रिकेट में कैसे लाया जाए यह न केवल आईसीसी बल्कि सदस्य देशों के लिए भी चुनौती है।’ इस अवसर पर लोर्गट ने आईसीसी कैलेंडर में आईपीएल के लिए स्थान के लिए विचार-विमर्श हो सकता है ताकि टेस्ट और आईपीएल की तिथियां टकराएं नहीं। उन्होंने कहा, ‘सभी सदस्य देश टेस्ट क्रिकेट के प्रति कमिटेड हैं।’ जब उन्हें बताया गया कि इंडियन क्रिकेट लीग (आईसीएल) और भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) की बातचीत फेल हो गई है तो उन्होंने कहा, ‘हमें बीसीसीआई से अभी तक कोई रिपोर्ट नहीं मिली है। इस समय हम आईपीएल और आईसीएल के बीच कोई मध्यस्थता नहीं कर रहे हैं। आईसीएल को मान्यता दिए जाने की प्रक्रिया भी जारी है।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: घटते दर्शकों से आईसीसी चिंतित