अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जम्मू-कश्मीर में चुनाव तारीखों का एलान

श्रीनगर की डल लेक पर जाड़े की अभी से महसूस की जाने वाली दस्तक पर जम्मू-कश्मीर विधान सभा के लिए आगामी 17 नवम्बर से 24 दिसम्बर तक छह चरणों में होने वाले चुनावों की तपिश भारी पड़ेगी। चुनाव आयोग ने रविवार को राज्य विधान सभा चुनाव कार्यक्रम का एलान करके अलगावादियों और पीडीपी के इरादों पर पानी फेर दिया। पीडीपी फिलहाल चुनाव कराने के पक्ष में नहीं थी। हुर्रियत का चुनावों को लेकर विरोध जगजाहिर था ही। मतदान विधानसभा की 87 सीटों के लिए होगा। पहला चरण 17 नवम्बर,दूसरा चरण 23 नवम्बर, तीसरा चरण 30 नवम्बर, चौथा चरण 7 दिसम्बर, पांचवा चरण 13 दिसम्बर,छठा चरण 17 दिसम्बर और सातवां चरण 24 दिसम्बर को होगा।ड्ढr ड्ढr मुख्य चुनाव आयुक्त एन.गोपालस्वामी ने यहां रविवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मतगणना 28 दिसम्बर को होगी और सम्भवत: उसी दिन सभी सीटों के नतीजे सामने आ जाएंगे। माना जा सकता है कि नूतन वर्ष के साथ ही प्रदेश को नई सरकार मिल जाएगी।कश्मीर की प्रमुख सियासी जमातों क्रमश: कांग्रेस, नेशनल कांफ्रेस और भाजपा ने चुनाव की तारीखों के एलान का स्वागत किया है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सैफुद्दीन सोज ने कहा कि उन्हें पक्का यकीन था कि चुनाव इसी साल हो जाएंगे। उधर, नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने कहा कि उनकी पार्टी की चाहत थी कि चुनाव अगले साल मार्च में कराए जाएं। पर उन्होंने स्पष्ट किया कि उनकी पार्टी पूरी ताकत के साथ चुनाव मैदान में उतरगी। उधर,अलगाववादी हुर्रियत कांफ्रेंस के अध्यक्ष मीरवाइज उमर फारूक ने राज्य की जनता का आहवान किया कि वे अपने को चुनावों से दूर रखे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जम्मू-कश्मीर में चुनाव तारीखों का एलान