DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सचिन नहीं चाहते तो क्या : निरंचान

सचिन तेंदुलकर क्रिकेट पर कुछ कहते हैं तो उनकी बातों से असहमत होने वाले कम ही मिलते हैं। लेकिन भारतीय क्रिकेट बोर्ड के पूर्व सचिव निरांन शाह उस मुद्दे पर तेंदुलकर से बिलकुल भी सहमत नहीं हैं, जिस पर आजकल हंगामा मचा हुआ है। यह मुद्दा है इंडियन प्रीमियर लीग सीजन-2 के मैचों में दस ओवर के बाद साढ़े सात मिनट के ब्रेक का। सोमवार की सुबह केप टाउन से डरबन आते हुए एयरपोर्ट पर निरांन से इस मुद्दे पर बात की तो वह बोले, ‘क्यों नहीं होना चाहिए। ऐसी कौन सी क्रिकेट है जिसमें ब्रेक नहीं होता। सचिन कहे तो कहे, मुझे तो यह ठीक लगता है।’ निरांन आईपीएल की गवर्निग काउंसिल के सदस्य भी हैं। आईपीएल की गवर्निग काउंसिल के लिए यह मुद्दा सिरदर्द बनकर रह गया है। खास तौर पर जब से सचिन तेंदुलकर ने इस ब्रेक की आलोचना की है, इसके आलोचक बढ़ते ही जा रहे हैं। यहां तक कि आईपीएल के चेयरमैन और कमिश्नर ललित मोदी को भी कहना पड़ गया कि, इस बार का आयोजन समाप्त होने के बाद इस ब्रेक की समीक्षा की जाएगी। सौराष्ट्र के पूर्व रणजी खिलाड़ी निरांन कहा, ‘यह ब्रेक क्यों रखा गया था? मैं बताता हूं। पिछले सीजन पानी पीने में कितना वक्त मैचों में बर्बाद हुआ यह देखा गया था। आईपीएल गर्मियों में भारत में होनी थी, तब तमाम शहरों में तापमान 40 डिग्री से ऊपर चला जाता। इसलिए यह तय किया गया कि खिलाड़ियों को गर्मी में पानी के साथ कुछ आराम देने के लिए ब्रेक दिया जाए। इस दौरान वह अपनी रणनीति पर भी चर्चा कर सकते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘ब्रेक के बाद सचिन भी एक मैच में आउट हो गए थे, ऐस दूसर बल्लेबाजों के साथ हो रहा है तो उन्हें लग रहा होगा कि ब्रेक बल्लेबाजों की एकाग्रता भंग कर रहा है। लेकिन आप बातओ क्या टेस्ट क्रिकेट में लंच टी और ड्रिंक्स ब्रेक नहीं होते? क्या वनडे क्रिकेट में ड्रिंक्स ब्रेक नहीं हाते? फिर इस पर हंगामा क्यों? मुझे तो समझ में नहीं आ रहा है।’ निरांन ने कहा, ‘आईपीएल की वजह से क्रिकेट के साथ नए दर्शक जुड़े हैं जो खेल और मनोरांन साथ-साथ चाहते हैं। दक्षिण अफ्रीका में सब ठीक चल रहा है। अब लोग बारिश के कारण भी आलोचना कर रहे हैं, मैं पूछता हूं कि बारिश पर किसी का जोर है क्या? भारत में क्या दुनिया में ही भी क्रिकेट के दौरान बारिश होती है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सचिन नहीं चाहते तो क्या : निरंचान