अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीएचइडी एसडीओ को गोलियों से भूना

रविवार को शाम आठ बजे दो अज्ञात अपराधियों ने पेयजल एवं स्वच्छता के एसडीओ ओमप्रकाश राय की गोली मारकर हत्या कर दी। वे बलिया (बिहार) के निवासी थे और हुसैनाबाद में पदस्थापित थे। घटना के समय एसडीओ और उनके अधीनस्थ जेइ आनंद सिंह रेड़मा सब्जी बाजार स्थित किराये के मकान पर बातचीत कर रहे थे। इसी बीच एक बाइक पर सवार होकर दो अपराधी आये,पूछा एसडीओ कौन हैं। पहचानते ही तड़-तड़ तीन गोली एसडीओ पर दाग दी। गोली की आवाज सुनने के बाद अफरा-तफरी का माहौल हो गया। उधर, एक अपराधी बाइक स्टार्ट कर रखा था, जिससे गोली मारने के बाद दोनों फरार हो गये। स्थानीय लोग एसडीओ को सदर अस्पताल लाये, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। जेइ को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। घटना की खबर सुनकर डीसी अमिताभ कौशल, एसपी दीपक वर्मा, डीएसपी अश्विनी सिन्हा, इंस्पेक्टर, थाना प्रभारी समेत अन्य पुलिसकर्मी अस्पताल पहुंचे। घटनास्थल परोाकर भी पुलिस ने वस्तु स्थिति की जानकारी ली। वहां भारी मात्रा में खून गिरा हुआ था। एसपी ने बताया कि इस घटना के पीछे टेंडर या रंगदारी का मामला हो सकता है। अपराधियों की पहचान कर पकड़ लिया जायेगा। इसबीच, घटना के बाद पलामू जिले के सभी थानों को एलर्ट कर अपराधियों को पकड़ने का निर्देश दिया गया है। मेदिनीनगर से आने-ााने वाले वाहनों की जांच शुरू कर दी गयी, लेकिन कोई सुराग नहीं लग पाया। उधर, डिप्लोमा अभियंता संघ के अध्यक्ष विष्णुपद सिंह ने कहा है कि सोमवार को बैठक होगी और आंदोलन की रणनीति बनेगी। पहले भी इंजीनियरों को मिली थी धमकीड्ढr विभाग के इंजीनियर पहले भी रंगदारों के निशाने पर रहे हैं। इन्ही स्थितियों में यहां तैनात पेयजल के कार्यपालक अभियंता नर्मदेश्वर द्विवेदी और जेई नरंद्र सिंह को पलामू छोड़ भागना पड़ा था। दोनों से रंगदारों ने पांच लाख की रंगदारी मांगी थी और नहीं देने पर जान से मारने की धमकी दी थी। दोनों को पुलिस गार्ड दिये गये थे। लेकिन वे इतने डर थे कि धमकी के सप्ताह भर के भीतर शहर ही छोड़ दिया था। बाद में उनका तबादला अन्यत्र कर दिया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पीएचइडी एसडीओ को गोलियों से भूना