DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

थाकसिन को सुनाई गई दो वर्ष की सजा

थाईलैंड के सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री थाकसिन सिनावात्रा को प्रधानमंत्री रहते सत्ता के दुरुपयोग करने के मामले में दोषी करार दिया और दो वर्ष जेल की सजा सुनाई। हालांकि भ्रष्टाचार से ही जुड़े दो अन्य आपराधिक मामलों में उन्हें बरी कर दिया गया। इन दोनों ही मामलों में कम से कम दस वर्ष सजा का प्रावधान था। सिनावात्रा मंगलवार को अदालत में उपस्थित नहीं थ। वह फिलहाल लंदन में निर्वासित जीवन जी रहे हैं। उन्होंने न्यूज एजेंसी से फोन पर बातचीत में कहा कि उन्हें अपने खिलाफ मामलों में इसी तरह के नतीजे की आशंका थी। थाकसिन ने कहा कि उनके खिलाफ मामले राजनीति से प्रेरित हैं। समाचार एजंसी डीपीए क अनुसार सिनावात्रा पर आरोप था कि उन्होंन प्रधानमंत्री पद का दुरुपयोग करत हुए एक सरकारी भूमि की नीलामी मं अपनी पत्नी पूजामन को जमीन खरीदन की अनुमति दी थी। इस मामल मं अदालत न पूजामन को दोषी करार नहीं दिया।ड्ढr अभियोजन पक्ष क प्रमुख साएकसन बैंगसोम्बुम न कहा कि पूजामन को दोषमुक्त करार दिया गया क्योंकि व सरकारी अधिकारी नहीं थीं। अदालत क फैसल क अनुसार पूजामन को सरकारी जमीन लौटानी होगी और उन्हं इसक पैस लौटा दिए जाएंग। न्यायाधीशों की नौ सदस्यीय पीठ ने पांच चार के बहुमत से यह फैसला सुनाया। थाकसिन को सजा सुनाए जाने के बाद अब सरकारी अभियोजन पक्ष ने ब्रिटेन से उनका प्रत्यर्पण कराने की इच्छा व्यक्त की है। इस मामले में वरिष्ठ अभियोजक सेकसन बंगसोमबन ने मंगलवार को कहा कि अभियोजन पक्ष अदालत के फैसले के हवाले से बिटेन सरकार से थाकसिन का शीघ्र प्रत्यर्पण किए जाने का अनुरोध करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: थाकसिन को सुनाई गई दो वर्ष की सजा