अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रोवीसी को दो घंटे तक बंधक बनाया

महीनों से रिाल्ट का इंतजार कर रहे सीआइटी के छात्रों का धैर्य जवाब दे गया। उन्होंने 21 अक्तूबर को रांची यूनिवर्सिटी हेड क्वार्टर पहुंच कर वीसी की अनुपस्थिति में प्रोवीसी डॉ एसके राय को दो घंटे तक बंधक रखा। इस दौरान छात्रों ने कई अधिकारियों और कर्मचारियों को कमर से बाहर निकाल कर दरवाजा बंद कर दिया। नाराज छात्रों ने कहा कि यूनिवर्सिटी की उदासीनता के कारण उनका सेशन डेढ़ साल लेट हो गया है। ये सभी छात्र सत्र 2004-08 बैच के थे। उनका कहना था कि अब तक उनका कोर्स पूरा हो जाना चाहिए था। परंतु अब 2010 तक इसके पूरा होने की संभावना नहीं है। यूनिवर्सिटी उनके करियर के साथ मजाक कर रही है। कॉपियों की जांच में भी धांधली होती है। इस वर्ष के टॉपर को अगले साल दस नंबर भी नहीं मिलते। छात्रों ने लगभग दो घंटे तक प्रोवीसी को घेर रखा। इसी बीच एनएसयूआइ के कुमार राजा, संजय और आजसू के राकेश किरण वहां पहुंचे। उन्होंने छात्रों से आग्रह किया प्रोवीसी को छोड़ दें। बैठ कर भी बातें हो सकती हैं। छात्र नहीं माने। इस क्रम में दोनों गुटों के बीच बहस भी हुई। तब एनएसयूआइ और आजसू के नेताओं ने कहा कि वीसी के आने पर वे आंदोलन करं, वह उनके साथ हैं। सीआइटी के छात्र मान गये और तय हुआ कि 22 अक्तूबर को यूनिवर्सिटी में तालाबंदी की जायेगी। इसके लिए सभी छात्रों को दिन के 11 बजे यूनिवर्सिटी पहुंचने को कहा गया है।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्रोवीसी को दो घंटे तक बंधक बनाया