DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्वार्टर फाइनल में पहुंचे विजेंदर

क्वार्टर फाइनल में पहुंचे विजेंदर

भारत के स्टार मुक्केबाज और पदक की आस विजेंदर सिंह अमेरिकी प्रतिद्वंद्वी को कड़े मुकाबले में हराकर ओलंपिक खेलों में पुरूष मिडलवेट वर्ग (75 किग्रा) के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए हैं।
    
बीजिंग ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता 26 वर्षीय विजेंदर ने गुरुवार रात एक्सेल एरिना में हुए कौशल और रणनीति से भरे मुकाबले में अमेरिकी मुक्केबाज टेरेल गौशा पर 16-15 से जीत दर्ज की।
    
उत्साह से भरे दर्शकों के बीच विजेंदर ने पहले दौर के बाद एक अंक की बढ़त हासिल कर ली थी जो अंत में भारतीय मुक्केबाज के पक्ष में निर्णायक रही। दूसरे दौर में गौशा ने कुछ हद तक वापसी की और दोनों मुक्केबाजों के बीच कड़े संघर्ष के बाद स्कोर 5-5 से बराबरी पर रहा।
    
तीसरे और अंतिम दौर में विजेंदर ने ज्यादा हमलावर होने की रणनीति अपनाई लेकिन अमेरिकी खिलाड़ी ने भी दमदार मुक्कों के हमले जारी रखे। दर्शकों की ओर से इंडिया जीतेगा के नारों के बीच विजेंदर को विजेता घोषित किया गया।
    
पूर्व विश्व नंबर एक विजेंदर का क्वार्टर फाइनल में मुकाबला उज्बेकिस्तान के मुक्केबाज अबोस एतोइव से होगा जिन्होंने प्री क्वार्टर फाइनल में रूस के बोगदान जुरातोनी को 12-10 से शिकस्त दी।

तीसरे और अंतिम दौर में विजेंदर ने ज्यादा हमलावर होने की रणनीति अपनाई लेकिन अमेरिकी खिलाड़ी ने भी दमदार मुक्कों के हमले जारी रखे। दर्शकों की ओर से इंडिया जीतेगा के नारों के बीच विजेंदर को विजेता घोषित किया गया।
    
पूर्व विश्व नंबर एक विजेंदर का क्वार्टर फाइनल में मुकाबला उज्बेकिस्तान के मुक्केबाज अबोस एतोइव से होगा जिन्होंने प्री क्वार्टर फाइनल में रूस के बोगदान जुरातोनी को 12-10 से शिकस्त दी। भारतीय खिलाड़ी उज्बेकिस्तान के मुक्केबाज के खिलाफ प्रबल दावेदार है क्योंकि विजेंदर ने एशियाई खेलों के फाइनल में उसे 7-0 से हराया था, वह भी चोटिल हाथ के बावजूद।
    
विजेंदर ने कहा कि कोच कह रहे थे कि शांत रहो, शांत रहो वरना तुम मैच हार जाओगे। उन्होंने कहा कि भारत में हर कोई टीवी खोलकर मुझे देख रहा है। यह बहुत सम्मान की बात है लेकिन यह मेरे लिए कर्तव्य है कि मैं उनके भरोसे को कायम रखूं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:क्वार्टर फाइनल में पहुंचे विजेंदर