DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मलिक पर लगा आजीवन प्रतिबंध हटा

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सलीम मलिक पर कथित रूप से मैच फिक्िसंग को लेकर लगाया गया आजीवन प्रतिबंध हटा लिया गया है। मलिक के वकील शाहिद करीम ने गुरुवा को यहां बताया कि सिविल कोर्ट के न्यायाधीश ने उन पर लगा प्रतिबंध और जुर्माना हटाने का आदेश जारी किया है। यह प्रतिबंध कथित रूप से मैच फिक्िसंग की जांच के बाद लगाया गया था। करीम ने कहा, ‘कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि मलिक पर प्रतिबंध और जुर्माना लगाया जाना पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अधिकार क्षेत्र से बाहर है और उसे ऐसा फैसला नहीं करना चाहिए था क्योंकि इसका कोई कानूनी आधार नहीं है।’ मलिक ने कहा, ‘मेरे लिए यह बहुत बड़ा यादगार दिन है। मुझे इस बात की बहुत खुशी है कि अंतत मुझसे संबंधित मैच फिक्िसंग का मामला समाप्त हुआ।’ मलिक ने कहा कि वह इस पूरे प्रकरण से हुई क्षति की भरपाई के लिए पीसीबी के खिलाफ मामला दायर करने के बारे में विधि जानकारों से बातचीत कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘मुझे प्रतिबंध के कारण बहुत अधिक मानसिक तनाव झेलना पड़ा है और इसके कारण मेरी मानहानि भी हुई है।’ पीसीबी ने वर्ष 2001 में एक न्यायायिक जांच आयोग द्वारा 18 महीने तक कथित रूप से पाकिस्तानी खिलाड़ियों पर लगे मैच फिक्िसंग के आरोपों की जांच के बाद की गई सिफारिश पर 103 टेस्ट खेलने वाले मलिक पर यह प्रतिबंध लगा दिया था। आयोग ने मलिक पर आजीवन प्रतिबंध लगाने के साथ ही वसीम अकरम, इंजमाम उल हक और वकार यूनुस जैसे अन्य सीनियर खिलाड़ियों पर जुर्माने की सिफारिश की। मलिक ने प्रतिबंध को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी। हालांकि कोर्ट ने इस मामले को सिविल कोर्ट के सुपुर्द कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मलिक पर लगा आजीवन प्रतिबंध हटा