अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दीवाली पर सौ मेगावाट चयादा बिजली की जरूरत

दीपावली पर राजधानी को करीब सौ मेगावाट बिजली की अतिरिक्त जरूरत होगी और लेसा प्रशासन ने इसकी तैयारी पूरी कर ली है। लेसा का तो दावा है कि धनतेरस से लेकर अन्नकूट तक लखनऊ वासियों को बिजली की कहीं कोई समस्या नहीं आने दी जाएगी। पूर लेसा क्षेत्र में लाइनों में कोई समस्या उत्पन्न न हो इसके लिए लेसा के मुख्य अभियन्ता ने सख्त निर्देश जारी किए हैं। इसके तहत सभी जर्जर लाइनों को ठीक करने या बदलने तथा ट्रांसफार्मरों की पेटियों को पूरी तरह से दुरुस्त करने को कहा गया है। साथ ही उपकेन्द्रों के सार ब्रकरों की ओवर हालिंग करने तथा जहाँ जरूरी हो वहाँ एरियल बन्च कंडक्टर लगाने को भी कहा गया है।ड्ढr लेसा के मुख्य अभियन्ता केबी राम कहते हैं कि कुछ इलाकों में तो अनुरक्षण समेत अन्य तकनीकी कार्य पूरा किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि राजधानी में अभी 650 से 700 मेगावाट के बीच बिजली की माँग है और धनतेरस से लेकर अन्नकूट तक इसमें करीब सौ मेगावाट तक बढ़ने की सम्भावना है। उन्होंने कहा कि हमें माँग के अनुसार बिजली मिल जाएगी लेकिन कोई स्थानीय दिक्कत न पैदा हो इसके लिए हर फीडर पर कार्य कराया जा रहा है।ड्ढr जर्जर लाइनों को बदला जा रहा है और जहाँ लाइनें ढीली हैं वहाँ उसे कसा जा रहा है। सभी ट्रांसफार्मरों की फ्यूज पेटियों को भी ठीक किया जा रहा है ताकि कोई समस्या न आड्ढr सके। उन्होंने कहा कि सघन आबादी वाले इलाकों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। मसलन पुराने शहर, अलीगंज, इन्दिरानगर तथा गोमतीनगर इत्यादि जहाँ अतिरिक्त ट्रांसफार्मर लगाने को कहा गया है। साथ ही उक्त अवधि में अतिरिक्त कर्मचारियों को भी उपके न्द्रों पर तैनात करने के निर्देश दिए गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दीवाली पर सौ मेगावाट चयादा बिजली की जरूरत