DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिमी कार्यकर्ताआें को चार नवम्बर तक कीहिरासत

हैदराबाद से पूछताछ के लिए मध्यप्रदेश के धार लाए गए प्रतिबंधित संगठन स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट आफ इंडिया (सिमी) के दो कार्यकर्ताआें को गुरुवार को अदालत में पेश किया गया जहां उन्हे चार नवम्बर तक की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि हैदराबाद में तीन माह पूर्व गिरफ्तार सिमी के यासीर और जावेद (जोबेर) को मध्यप्रदेश से जुड़े मामलों के सिलसिले में प्रोडक्शन वारंट के तहत लाया गया था। इनसे पूछताछ के लिए अदालत ने तीन दिन के रिमांड पर सौंपा था जो गुरुवार को समाप्त हुआ। दोनो को गुरुवार को अदालत मंे पेश किया गया जहां से इन आरोपियों को चार नवम्बर तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार पूछताछ में यासीर और जावेद (जोबर) ने स्वीकार किया है कि इंदौर से गिरफ्तार सिमी सरगना सफदर नागौरी से जो कम्प्यूटर और हार्डडिस्क पुलिस ने जब्त किए थे वो इन्होंने ही उसे दिए थे। सूत्रों के अनुसार इन आरोपियों का छोटा भाई नासिर पाकिस्तान में आईएसआई की ट्रेनिंग लेकर आया है जबकि इनके पिता गुजरात के पूर्व गृहमंत्री हरेन पंडा के हत्या के मामले मे मुख्य आरोपियों में से एक है। वह वर्तमान में अहमदाबाद जेल में बंद है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सिमी कार्यकर्ताआें को चार नवम्बर तक की हिरासत