DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कच्चे तेल का उत्पादन घटाने पर विचार

ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में हो रही ओपेक देशों की बैठक में कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती की संभावना है। हाल के समय में वैश्विक मंदी के कारण कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट दर्ज की गई है। कीमतो में गिरावट का मुख्य कारण मंदी की मार झेल रहे देशों द्वारा इसकी मांग में कमी है। कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट की समस्या को लेकर शुक्रवाार को ओपेक देशों के तेल मंत्रियों की वियना में बैठक हो रही है। बैठक से पहले कुवैत के तेल मंत्री मोहम्मद अबदुल्ला अल अलीम ने कहा कि कच्चे तेल के उत्पादन को घटाने पर गंभीरता पूर्वक विचार किया जाएगा। उनके इराकी समकक्ष हुसैन अल शाहरिस्तानी ने कहा कि उनका देश भी उत्पादन घटाने के पक्ष में है, लेकिन अभी इस पर कोई फैसला नहीं हो पाया है कि बाजारों में से कितनी मात्रा में कच्चे तेल को कम किया जाए। एक अनुमान के मुताबिक आेपेक के तेल मंत्री प्रतिदिन 10 लाख से 20 लाख बैरेल कच्चे तेल का उत्पादन कम करने का फैसला कर सकते हैं। फिलहाल कच्चे तेल का उत्पादन करने वाले आेपेक देश करीब 2मिलियन बैरेल कच्चे तेल का उत्पान करते हैं, जो विश्व के कुल मांग का लगभग 40 फीसदी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कच्चे तेल का उत्पादन घटाने पर विचार