DA Image
31 मार्च, 2020|3:54|IST

अगली स्टोरी

खुद को भीड़ से अलग साबित करना है :बोल्ट

खुद को भीड़ से अलग साबित करना है :बोल्ट

गत बीजिंग ओलंपिक में तीन स्वर्ण जीत चुके विश्व रिकॉर्डधारी फर्राटा धावक जमैका के उसेन बोल्ट लंदन ओलंपिक में भी अपनी धाक जमाने को बेताब हैं ताकि वह एथलेटिक्स की दुनिया में खुद को सबसे अलग और सर्वश्रेष्ठ साबित कर सकें।
 
बोल्ट ने एक साक्षात्कार में कहा कि मुझसे पहले कई महान एथलीट हुए हैं लेकिन अब मेरा समय है। लंदन ओलंपिक ही वह मौका है जब मैं खुद को दुनियाभर के एथलीटों की भीड़ में जुदा और सर्वश्रेष्ठ साबित कर सकता हूं।
 
बोल्ट ने बीजिंग में 100मी, 200 मी और चार गुणा 400 मी रिले स्पर्धाओं में विश्व रिकॉर्ड स्थापित कर तीनों स्वर्ण जीते थे। बोल्ट ने बीजिंग का अपना ही रिकॉर्ड तोड़कर बर्लिन में विश्व चैंपियनशिप में 100मी और 200 मी के खिताब जीते थे लेकिन हाल के समय में वह हमवतन योहान ब्लेक से पिछड़ने के कारण चर्चाओं में रहे हैं। इन परिणामों के पीछे बोल्ट की खराब फिटनेस को कसूरवार ठहराया गया लेकिन लंदन ओलंपिक के लिए वह कड़ा परिश्रम कर रहे हैं।
 
बोल्ट ने कहा कि कामयाबी हासिल करने के लिए आप केवल मेहनत कर सकते हैं। मैंने कड़ा अभ्यास किया है क्योंकि मुझे पता है कि चैंपियन बनने के लिए कितनी लगन और मेहनत की जरूरत होती है। मैं जानता हूं कि मुझे क्या चाहिए।
 
उन्होंने कहा कि हर अभ्यास सत्र के साथ मैं बेहतर होता जा रहा हूं। मुझे अब किसी और बात की चिंता नहीं है। मेरा ध्यान केवल प्रशिक्षण, खाने और सोने पर है। मुझे भरोसा है कि मैं ओलंपिक में जा सकता हूं और पदक जीत सकता हूं। मैंने इस सत्र में कई गलतियां की जिनसे मुझे काफी कुछ सीखने को मिला। मुझे इन गलतियों को किसी भी हाल में नहीं दोहराना है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:खुद को भीड़ से अलग साबित करना है :बोल्ट