अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चालकों की लापरवाही से ‘डेथ जोन’ बना दानापुर-मनेर मार्ग

डेथ जोन बना दानापुर-मनेर मार्ग नौसिखिये चालकों की देन है। चाहे वह चालक जीप, टेम्पू, मिनीडोर या ट्रैक्टर के क्यों रहे। प्राय: सभी के पास नहीं ड्राइविंग लाइसेंस है नहीं यातयात नियमों की जानकारी। उन्हें सिर्फ पता है कि गाड़ी खूब तेज चलाएं जिसके लिए चालकों में कम्पीटीशन का भावना और गाड़ी मालिक के ज्यादा ट्रीप लगाने का दबाव। यही कारण है कि आये दिन इन गाड़ियों के चपेट में आकर कितने मां की गोद सूनी हो जाती है और कितने की मांग उाड़ जाती है।ड्ढr ड्ढr 15 अक्टूबर को महिनावा (मनेर) में चार की मौत हुई वहीं ठीक दस दिन बाद 26 अक्टूबर को छितनावा (मनेर) में तीन की मौत हुई। दोनों बड़ी दुर्घटना में चालक की लापरवाही सामने आयी। जिसका मुख्य कारण नाबालिग नौसिखिए चालक हैं और स्थानीय लोगों का आक्रोश पुलिस, राहगीर, अन्य वाहनों को झेलना पड़ता है। महिनावा में जहां लोगों ने दुर्घनाग्रस्त गाड़ी की जला दिया था वहीं छितनावा में लोगों ने शाहपुर पुलिस के गाड़ी का शीशा फोड़ दिया।ड्ढr लोगों ने बताया कि घटनास्थल भले ही मनेर थाना क्षेत्र में सूचना के एक घंटे बाद शाहपुर पुलिस ने एक किलोमीटर की दूरी तय किया। जिस पर लोगों का आक्रोश पुलिस को झेलना पड़ा। जब स्थिति सामान्य हो गई और सड़क जाम, लाश हट गया तो एएसपी गरिमा मल्लिक घटनास्थल पर पहुंची। ड्ढr बेजुबान मुनिया के सिर से उठा मां-बाप का सायाड्ढr दानापुर (हि.प्र.)। बेजुबान मुनिया को क्या पता कि उसके सिर से पिता का साया उठ गया जो अभी-अभी बीस दिन पहले इस दुनिया में आई है। जब वह होश संभालेगी और अपनो को पहचानेगी।ड्ढr ऐसे में अपने पापा को न पाकर उसके दिल पर क्या गुजरगी। उसे क्या पता कि जीप चालक की लापरवाही से उसके पापा अमित कुमार की अकाल मौत हो गई थी। अपने मां-बाप के एकलौते संतान अमित अपने परिवार की परवरिश के लिए रोज की तरह बीती रात फैक्ट्री में कार्य करने गया था अमित की धर्मपत्नी ने बीस दिन पहले एक पुत्री को जन्म दिया।ड्ढr ड्ढr अमित के पिता कृष्णा राय दादा बनने की खुशी में थे कि बेटे की मौत ने उनकी दुनिया ही उजाड़ दी। करबिगहिया निवासी रिजवान परवीन अपने शौहर के साथ रिश्तेदार के यहां विवाह समारोह में जा रही थी। जीप दुर्घटना में रिजवान अपने घायल शौहर की बाहों में दम तोड़ दिया।ड्ढr उक्त दृश्य देख प्रत्यक्षदर्शियों की आंखें नम हो गईं। ट्रैक्टर जीप के बीच हुई टक्कर में जीप के परखचे उÊाड़ गये। वहीं ट्रैक्टर चालक गाड़ी लेकर फरार हो गया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जीप-ट्रैक्टर दोनों शाहपुर के हैं जीप को गाड़ी मालिक का लड़का चला रहा था दो चालकों की लापरवाही ने कितने परिवारों के यहां दीपावली का दीप जलने से पहले ही बुझा दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चालकों की लापरवाही से ‘डेथ जोन’ बना दानापुर-मनेर मार्ग