अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प. चं. के डीएम सुप्रीम कोर्ट में तलब

होल्डिंग कूपन के नाम पर गरीबों से कथित अवैध वसूली के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बिहार के मुख्य सचिव, प. चम्पारण के डीएम तथा नरकटियागंज के तत्कालीन एसडीओ को तलब किया है। सुप्रीम कोर्ट ने अंतिम नोटिस भेज 30 दिनों में में स्वयं या अधिवक्ता के माध्यम से उपस्थिति दर्ज कराने का आदेश दिया है। मालूम हो कि नरकटियागंज के तत्कालीन एसडीओ राजाराम चौधरी ने अपने पत्रांक 254 दिनांक 10 अप्रैल 07 के माध्यम से सिकटा बीडीओ वसीर अहमद को होल्डिंग कूपन के लिए 7 रुपये वसूलवाने का निर्देश दिया था। परंतु विधायक खुर्शीद आलम के आपत्ति जताने पर एसडीओ ने पूर्व के पत्र को निरस्त करते हुए बीडीओ से स्पष्टीकरण मांगा। इस मामले में विधायक खुर्शीद ने पटना हाईकोर्ट में लोकहित याचिका सीडब्ल्यू जेसी 1526407 दायर किया था। 2नवम्बर 07 को हाईकोर्ट से याचिका खारिा होने पर विधायक ने सुप्रीम कोर्ट में 10508 अपील की थी। अपील स्वीकृत होने के बाद से सुप्रीम कोर्ट दो बार नोटिस जारी कर चुका है।ड्ढr ड्ढr आयुव्रेद कॉलेज में नामांकन पर रोक हटाने का निर्देशड्ढr मुजफ्फरपुर (का.सं.)। बावनबीघा कन्हौली स्थित नीतीश्वर आयुव्रेद कॉलेज एवं अस्पताल में सत्र 2008-0नामांकन होगा। भारत सरकार के आयुष विभाग द्वारा लगाये रोक को उच्च न्यायालय दिल्ली खारिा कर दिया है। नामांकन की स्वीकृति मिलते ही कॉलेज में रविवार को उत्सव मनाया गया। इस मौके पर धन्वंतरि पूजा किया गया। इस अवसर पर संस्था के सचिव नीतीश्वर सिंह, निदेशक बसंत कुमार सिंह, प्राचार्य डॉ. ओम प्रकाश,अधीक्षक डॉ. गिरीश नारायण सिंह, उप प्राचार्य डॉ. सरो कुमार सिंह, डॉ. अनिल कुमार झा, डॉ. पवन कुमार सिंह, डॉ. अजय कुमार शरण, डॉ. चितरांन सिंह, विजय कुमार साह, डॉ. उदय कुमार सिंह, डॉ. रमेश तिवारी, डॉ. पंका भारती आदि उपस्थित थे। इस बार में कॉलेज के सचिव श्री सिंह ने बताया कि कोर्ट से स्वीकृति मिलने के बाद यह एक मात्र आयुवर्े द का निजी कॉलेज है,ािसमें नमांकन होगा। श्री सिंह ने बताया कि इस साल विभाग ने सरकारी आयुव्रेद कॉलेज पटना को छोड़कर सभी निजी कॉलेज पर रोक लगा दी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प. चं. के डीएम सुप्रीम कोर्ट में तलब