अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कंधमाल : नागरिकों ने सुरक्षा के लिए भगवा घ्वज फहराए

उड़ीसा के कंधमाल जिले में ईसाइयों ने अपनी जान-माल की सुरक्षा के लिए घरों पर भगवा ध्वज फहरा दिए हैं। कंधमाल में विश्व हिंदू परिषद के नेता स्वामी लक्ष्मणानंद और उनके चार समर्थकों की हत्या के बाद भड़की सांप्रदायिक हिंसा में ईसाइयों को निशाना बनाया गया था। माधुरी दालबेहारा नाम की एक ईसाई महिला ने कहा, ‘‘हमने ये ध्वज अपने घरों को हमले से बचाने के लिए लगाए हैं। इनसे यह संकेत मिलता है कि हम हिंदू हैं।’’ उसने कहा कि यह काफी संवेदनशील इलाका है और इन ध्वजों को फहराने से निश्चित हो जाता है कि कोई हमें नुकसान नहीं पहुंचाएगा। जिले भर में हजारों मकानों पर भगवा ध्वज लगे हैं, इससे लगता है कि इनमें रहने वाले हिंदू हैं जबकि वास्तविकता यह है कि वे सभी ईसाई हैं। अपने घर की छत पर एक छोटा भगवा ध्वज लगाए नेबगान चिनारा का कहना है कि यदि एक ध्वज लगाने से हमारा घर और जीवन सुरक्षित हैं तो इसमें कुछ गलत नहीं है। कंधमाल के ही एक अन्य निवासी राजेश प्रधान ने कहा कि यहां आदिवासियांे और ईसाइयों में कोई शत्रुता नहीं थी। हम सभी खुशी से रहते थे लेकिन बाहरी लोग घृणा फैला रहे हैं। उनके कुछ राजनीतिक मकसद हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कंधमाल : नागरिकों ने सुरक्षा के लिए भगवा घ्वज फहराए