DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परीक्षा से पहले कोर्स पूरा कराया जाए

सूबे में बाढ़ व अन्य प्राकृतिक आपदाओं के कारण बाधित हुई छात्रों की पढ़ाई को पटरी पर लाने के लिए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने योजना तैयार कर ली है। बाढ़ग्रस्त इलाकों के माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूल व इंटर स्तर की पढ़ाई कराने वाले कॉलेजों को निर्देश जारी किया गया है कि परीक्षा से पहले छात्रों को कोर्स पूरा कराया जाए। इसके लिए सेंट अप के बाद भी अतिरिक्त कक्षाओं के आयोजन का निर्देश जारी किया गया है। समिति का कहना है कि रिाल्ट को बेहतर करने के लिए ठोस प्रयास किए जा रहे हैं।ड्ढr ड्ढr समिति के सचिव अनूप कुमार सिन्हा का कहना है कि बाढ़ के कारण सूबे के लोगों को भारी परशानी झेलनी पड़ी है। आपदाग्रस्त इलाकों में स्कूल-कॉलेजों में पानी घुस गया था। इस कारण उन इलाकों में जुलाई-अगस्त से ही पढ़ाई बंद है। अब इन इलाकों के छात्रों को पढ़ाई की व्यवस्था कराना स्कूल-कॉलेज प्रशासन का दायित्व है। समिति ने इन इलाके के छात्रों को पहले ही परीक्षा में बैठाने की व्यवस्था कर दी है और 21 नवंबर तक यहां के छात्रों का आईसीआर फार्म भरवाया जाएगा। इन छात्रों को परीक्षा के दौरान किसी प्रकार की परशानी का सामना नहीं करना पड़े इसके लिए अब पढ़ाई की भी व्यवस्था की जा रही है। सचिव का कहना है कि इसके लिए प्रखंड स्तर पर मानिटरिंग कराई जाएगी।ड्ढr ड्ढr स्कूल-कॉलेजों में शिक्षकों को इसके लिए विशेष रूप से निर्देश जारी किए जायेंगे। छठ पूजा की छुट्टियों के बाद स्कूल व कॉलेजों में अतिरिक्त कक्षाओं के आयोजन कराने की भी व्यवस्था करायी जाएगी। इसके लिए भी योजनाओं को अंतिम रूप दिया जा रहा है। समिति बाढ़ग्रस्त इलाके के जिला शिक्षा पदाधिकारियों को इन योजनाओं को लागू कराने के लिए विशेष निर्देश जारी कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: परीक्षा से पहले कोर्स पूरा कराया जाए