अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सायना और गुरु क्वार्टर फाइनल में

सायना नेहवाल और गुरु साईं दत्त ने भारत की उम्मीदें जिंदा रखी हैं। लेकिन मलयेशिया के मोहम्म्द इस्माइल ने शीर्ष वरीयता प्राप्त चीन के गाओ हुआन को दिन में ही तार दिखा दिए। उनसे एसी टक्कर मिलने की उम्मीद गाओ को नहीं थी। पहला गेम जीतने के बाद दूसर गेम में भी इस्माइल 17-12 की बढ़त पर थे। लेकिन विश्व जूनियर बैडमिंटन के सर्वश्रेष्ठ मैच में उसके बाद गाओ ने प्रष्ठिता के अनुरूप खेल दिखाया और बेहतर तकनीक, कुशल प्लेसिंग और ताकतवर स्मैशों की मदद से 17-21, 23-21, 21-14 से जीत के साथ क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया। हालांकि लड़कियों के वर्ग में दूसरी वरीय चीन की ली जुएरुई उलटफेर की शिकार हो ही गईं। जापान की सयाका सातो ने उन पर15-21, 21-16, 21-से सनसनीखेजोीत दर्ज की। यहां बालेवाडी के शिव छत्रपति शिवाजी स्पोर्ट्स कॉम्पलैक्स में हो रही योनैक्स सनराइज बीडब्ल्यूएफ विश्व जूनियर बैडमिंटन चैंपियनशिप में गुरुवार को भारत के लिए जिसका डर था, वही हुआ। टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे 12 में से दस खिलाड़ियों का वापसी का टिकट कट गया। डबल्स के तीनों वर्गो में मेजबान खिलाड़ियों की चुनौती धराशायी हो गई लेकिन सिंगल्स में उम्मीदें बरकरार हैं। सायना ने तीसर दौर में हांगकांग की यिंग सुएट त्से को 21-से हराया जबकि प्री-क्वार्टर में चीनी ताइपे की शी हैन हुंग को 21-13, 21-11 से पराजित किया। गुरु तीसर दौर में स्कॉटलैंड के मार्टिन कैंपबेल से 21-6, 21-13 से जीते। हालांकि चौथे दौर में हारते-हारते बचे। एक गेम गंवाने के बाद उन्होंने लाजवाब संघर्षक्षमता और स्मैशों की बदौलत मलयेशिया के कैम चुंग कुआन को 1शिकस्त देकर क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली। अब सायना को क्वार्टर फाइनल में इंडोनेशिया की लिंडा वेनी फैनेत्री से खेलेगी जबकि गुरु को दूसर वरीय कोरिया के संग मिन पार्क की कड़ी चुनौती झेलनी पड़ेगी। मिक्स्ड डबल्स में चुनौती सुबह ही खत्म हो गई। बी साई प्रणीत-प्रदन्या गदर की जोड़ी ने पहला गेम 18 अंकों पर गंवाया और दूसर गेम में दबाव में आकर कोरिया के वाई चोई-के जुंग के सामने 16-21 से हथियार डाल दिए।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सायना और गुरु क्वार्टर फाइनल में