अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजधानी में कई संगठनों ने किया विरोध प्रदर्शन

मुंबई में बिहारी छात्र राहुल राज हत्या के खिलाफ राजधानी के सभी संगठनों में काफी आक्रोश है। छात्र राजद ने गुरुवार को पटना विवि गेट के पास महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री विलास राव देशमुख का पुतला फूंका। छात्रों ने उनके पुतला को सभी कॉलेजों में घुमया। आक्रोशित छात्रों ने कुछ देर के लिए अशोक राजपथ जाम किया। पुतला दहन में प्रदेश उपाध्यक्ष अजीज शक्ितमान, प्रदेश महासचिव धनंजय यादव, धीरा यादव आदि शामिल थे। इधर बिहार निर्माण मंच के अध्यक्ष विनोद कुमार मऊआर ने कहा कि इतना कुछ होने के बावजूद केन्द्र सरकार कान में रुई डालकर सोई हुई है।ड्ढr ड्ढr बिहार प्रदेश युवा समता पार्टी के अध्यक्ष राकेश कुमार सिंह ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। छात्र नेता अवधेश कुमार लालू और मुकेश कुमार सिंह ने राज ठाकर पर देशद्रोह का मुकदमा चलाने की मांग केन्द्र सरकार से की है। राष्ट्रीय कांतिकारी जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेन्द्र पांडेय ने राहुल राज के परिवार से मिलकर परिानों को ढाढ़स बंधाया। बिहार रिक्शा ठेला टमटम कामगार कल्याण संघ के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश प्रसाद यादव ने कहा राहुल शहीद हुआ है। एनएसयूआई के दीपक प्रकाश ने कहा कि राहुल का बलिदान खाली नहीं जाएगा। राकांपा के विवि प्रभारी मो. तनवीर अहमद ने बिहारी अस्मिता को बचाने के लिए पूरे छात्र समुदाय से एकाुट होने का आह्वान किया है। आइसा ने आयोजित की प्रतिरोध सभाड्ढr पटना (हि.प्र.)। गोरखपुर के छात्र धर्मदेव राय की महाराष्ट्र में की गयी हत्या के विरोध में आइसा ने रडियो स्टेशन पर प्रतिरोध सभा का आयोजन किया। संघ के कार्यकर्ताओं ने काला बिल्ला लगाकर उत्तर भारतीयों पर लगातार हो रहे हमले का प्रतिकार किया। उन्होंने समस्या के स्थायी समाधान की मांग की। सभा को संबोधित करते हुए आइसा नेताओं ने कहा कि महाराष्ट्र में मनसे कह गुंडागर्दी लगातार जारी है लेकिन केंद्र सरकार ने चुप्पी साध ली है। नए प्रकरणों से स्पष्ट है कि इस मसले पर महाराष्ट्र की कांग्रेस सरकार व मनसे की आम सहमति है। यह देश के संघीय ढांचे व लोकतंत्र पर तीखा हमला है जिसे देश का जनतांत्रिक समुदाय कभी स्वीकार नहीं कर सकता। उन्होंने केंद्र सरकार की लगातार चुप्पी की भी तीखी भर्त्सना की। छात्र नेताओं ने कहा कि छात्र आंदोलन का दमन किया जा रहा है और हत्या के आरोपी राज ठाकर पर मुकदमा चलाने को लेकर किसी भी पार्टी द्वारा कोई कदम नहीं उठाया जा रहा। उन्होंने फिर मांग की कि राज पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जाए। प्रतिवाद सभा को मुख्य रूप से आइसा के राज्य सचिव अभ्युदय, कुमार परवेज, राहुल विकास ने संबोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राजधानी में कई संगठनों ने किया विरोध प्रदर्शन