अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झारखंड में चलेगा लॉटरी का धंधा

लॉटरी से मेहनत मजदूरी करनेवाले बर्बाद हो जाते हैं, बावजूद इसके राज्य में लॉटरी अनुमति दी जा रही है। सरकार ने सूगल एंड दमन कंपनी को राज्य में लॉटरी चलाने की स्वीकृति दे दी है। इससे पहले सरकार ने लॉटरी को राज्य में बैन करने का फैसला किया था। इससे संबंधित संलेख कैबिनेट विभाग में पड़ा हुआ है। लॉटरी के मुद्दे पर सरकार के भीतर भी मतांतर है।ड्ढr राज्य में लॉटरी चलाने या बैन करने के लिए कोई नियम नहीं है। इसे लेकर पहले भी विवाद हुआ था। जांच में पता चला कि लॉटरी से सरकार को राजस्व की आमदनी नहीं है। जब सरकार खुद लॉटरी चलायेगी, तभी इसका लाभ मिलेगा। सरकार ने कहा था कि जब टैक्स नहीं मिलेगा, तो इसे बैन करना ही उचित होगा। इसके बावजूद दिल्ली की कंपनी को सरकार ने लॉटरी चलाने की अनुमति दे दी। वित्त विभाग ने कंपनी को पत्र लिख कर कहा है कि वह झारखंड में लॉटरी का कारोबार कर।ड्ढr मुझे जानकारी नहीं वित्त मंत्री स्टीफन मरांडी का कहना है कि राज्य में लॉटरी बैन है। वित्त विभाग से प्रस्ताव आया था कि राज्य में लॉटरी एक्ट नहीं है। सरकार को एक्ट बनाना चाहिए। उन्होंने फाइल पर लॉटरी बैन करने का आदेश दिया है। मामला कैबिनेट के पास है। पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि किसी कंपनी को लॉटरी का कारोबार करने संबंधी पत्र लिखे जाने की जानकारी उन्हें नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: झारखंड में चलेगा लॉटरी का धंधा