अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साध्वी को 17 नवंबर तक न्यायिक हिरासत

मालेगांव बम विस्फोट मामले में साध्वी प्रज्ञा सिंह को कोर्ट में पेश किया गया। साध्वी को अदालत ने 17 नवम्बर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। अदालत में पेशी के दौरान साध्वी बेहोश हो गई। साधवी समेत तीन संदिग्धों की सोमवार को ही पुलिस हिरासत की अवधि खत्म हो रही थी। इस बीच पुलिस ने इसी मामले में तीन अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है। अब पकड़े गए संदिग्धों की कुल संख्या 8 हो गई है। पिछले महीने 23 अक्तूबर को साध्वी तथा उसके दो साथियों शामलाल भावर शाहु और शिवनारायण सिंह को पुलिस ने महाराष्ट्र के मालेगांव और गुजरात के मोदासा में हुए बम विस्फोट के मामले में कथित रूप से संलिप्त होने के आरोप में गिरफ्तार किया था। हालांकि गुजरात पुलिस की चार सदस्यीय दल ने एक नवंबर को प्रज्ञा से पूछताछ के बाद उसे मोदासा बम विस्फोट मामले में क्लीन चिट दे दिया था। महाराष्ट्र पुलिस ने सेना के दो पूर्व अधिकारी रमेश उपाध्याय और समीर कुलकर्णी को भी इसी मामले में गिरफ्तार किया है। इसके अलावा एक अन्य लेफ्टीनेंट कर्नल एस पुरोहित को पंचमढ़ी से पकड़कर मुंबई लाया गया था लेकिन एटीएस अधिकारियों ने इसकी पुष्टि नहीं की है। मुंबई के फॉरेंसिक साइंस लैबोरेट्री में 30 अक्तूबर और एक नवंबर को साध्वी का ब्रेन मैपिंग और पॉलीग्राफ टेस्ट किया गया लेकिन कुछ ठोस नतीजा पुलिस को हासिल नहीं हुआ है। मंगलवार को साध्वी का नार्को टेस्ट किया जायगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: साध्वी को 17 नवंबर तक न्यायिक हिरासत