अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्किल डेवलेपमेंट मिशन की बैठक आज

आर्थिक जगत में हो रही हलचल और नौकरियों पर पड़ने वाले इसके प्रभाव की पृष्ठभूमि में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह देश में रोगार के नए अवसर पैदा करने से संबंधित एक महत्वपूर्ण बैठक मंगलवार को कर रहे हैं। रोगारोन्मुख पढ़ाई को बढ़ावा देने और देश में कौशलयुक्त श्रमिकों की नई जमात खड़ी करने के उद्देश्य से बनी ‘स्किल डेवलेपमेंट मिशन’ (कौशल विकास मिशन) की इस बैठक में न केवल इस मिशन को अंतिम स्वीकृति दी जाएगी बल्कि कुछ विवादों को भी सुलझाया जाएगा। वित्त मंत्रालय और योजना आयोग के बीच इस बात को लेकर तनातनी चल रही है कि इसका मुख्यालय कहां हो। योजना आयोग जिसने इस मिशन का मसौदा (ड्राफ्ट) तैयार किया है , चाहता है कि इसका मुख्यालय योजना आयोग में ही रहे क्योंकि इसके पास इस मिशन को संभालने के लिए विशेषज्ञों की पूरी फौा है। दूसरी तरफ, वित्त मंत्रालय का कहना है कि चूंकि स्किल डेवलेपमेंट मिशन के लिए विभिन्न मदों में इसी के माध्यम से पैसा और संसाधन जारी होंगे, लिहाजा मुख्यालय वित्त मंत्रालय ही रहे। अकुशल मजदूरों को ट्रेनिंग देने की सरकार की इस पहल के तहत, वाउचर स्कीम शुरू की जाने वाली है। सरकार प्रति मजदूर 2000 रुपये की सबसिडी और निजी आईटीआई में ट्रेनिंग लेने वाले गरीब मजदूरों को 7500 रुपये का वाउचर देगी। इसमें 6000 रुपया ट्यूशन फीस और 1500 रुपये निजी खर्च के लिए दिए जाएंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: स्किल डेवलेपमेंट मिशन की बैठक आज