DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शुरुआती कारोबार में गिरकर संभले बाजार

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के ऋण ब्याज दरों में कमी किए जाने पर राजी होने के समाचारों के बीच मंगलवार को रियलटी, बैंकिंग, पावर और एफएमसीजी कंपनियों के शेयरों को मिले जोरदार समर्थन से देश के शेयर बाजारों ने लगातार पांचवें कारोबारी दिवस में अपनी उड़ान जारी रखी। बम्बई शेयर बाजार (बीएसई) का सैंसेक्स उठापटक वाले कारोबार में 2तथा नेशनल स्टाक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी अंक ऊपर बंद हुए। वित्त मंत्री पी चिदम्बरम के साथ सार्वजनिक क्षेत्र के प्रमुखों की मंगलवार को बैठक हुई। बैठक के बाद बैंक प्रमुखों ने ब्याज दरों में चौथाई से लेकर पौना प्रतिशत तक कमी किए जाने के संकेत दिए। सस्ते आवास ऋण की उम्मीद में वैश्विक वित्त संकट से प्रभावित होने वाले प्रमुख क्षेत्रों में रियलटी कंपनियों के शेयरों ने जोरदार छलांग लगाई। इस वर्ग की अग्रणी डीएलएफ का शेयर 14.66 प्रतिशत अर्थात 37.10 रुपए के लाभ से 20.15 रुपए पर पहुंच गया। कारोबार के दौरान कंपनी का शेयर ऊपर में 300.80 तथा नीचे 240.50 रुपए तक गिरा। इससे पहले सत्र की शुरुआत में पिछले चार दिन से लगातार बढ़ रहे शेयर बाजारों में हल्की गिरावट देखी गई, किंतु बाद में बाजार ने फिर रफ्तार पकड ली। कारोबार के प्रारंभ में सैंसेक्स सोमवार के 10337.68 अंक के मुकाबले 10304.57 अंक पर खुला और ऊंचे में 10668.48 तथा नीचे 10116.22 अंक तक गिरने के बाद समाप्ति पर कुल 2अंक अर्थात 2.84 प्रतिशत के लाभ से 10631.12 अंक पर बंद हुआ। एनएसई का निफ्टी 3050.25 अंक पर सात अंक ऊंचा खुला और 2से 3152.30 अंक के बीच झूलने के बाद समाप्ति पर अंक अर्थात 3.23 प्रतिशत के फायदे से 3142.10 अंक पर बंद हुआ। बीएसई के अन्य सूचकांकों में मिडकैप और स्मालकैप क्रमश 2.70 तथा 2.75 प्रतिशत ऊपर रहे। रियलटी सूचकांक ने 12.14 प्रतिशत की छलांग लगाई। बैंकेक्स 6.56 प्रतिशत चढ़ा। पावर और पीएसयू में क्रमश 5.66 तथा 4.82 प्रतिशत की वृद्धि हुई। एफएमसीजी सूचकांक 4.77 प्रतिशत ऊंचा रहा। एनएसई का मिडकैप 3.55 प्रतिशत तथा जूनियर 5.52 प्रतिशत सुधार में रहे। एशियाई शेयर बाजारों में हांगकांग का हैंगसैंग 0.3 प्रतिशत ऊंचा रहा। जापान का निक्केई 6.3 प्रतिशत और शंघाई कम्पोजिट सूचकांक 0.76 प्रतिशत नीचे आया। बीएसई में कामकाज के दौरान 2654 कंपनियों के शेयरों में कामकाज हुआ। इसमें से दो तिहाई से अधिक 68.16 प्रतिशत अर्थात 180ंपनियों के शेयर लाभ में रहे जबकि 2प्रतिशत अथवा 778 में नुकसान और 67 में स्थिरता थी। सैंसेक्स की तीस कंपनियों में 24 लाभ तथा छह नुकसान में थीं। सैंसेक्स से जुड़ी कंपनियों में दूसरे नंबर पर रैनबैक्सी लैबोरेट्रीज के शेयर में प्रतिशत अर्थात 18.80 रुपए का फायदा हुआ। कंपनी का शेयर 20पए पर पहुंच गया। आईसीआईसीआई बैंक का शेयर 6.53 प्रतिशत अर्थात 28.15 रुपए के फायदे से 450 रुपए पर पहुंच गया। एसबीआई के शेयर में 1321.15 रुपए पर 6.50 प्रतिशत अर्थात 80.60 रुपए का उछाल आया। जयप्रकाश एसोसिएट्स, टाटा पावर, आरकाम, आईटीसी लिमिटेड, आेएनजीसी, टाटा स्टील, भेल, भारती एयरटेल, महिन्द्रा ऐंड महिन्द्रा, एचडीएफसी बैंक, हिन्दुस्तान यूनीलीवर, एलऐंडटी, ग्रासिम इंडस्ट्रीज, मारुतिसुजूकी, टाटा मोटर्स और रिलायंस इन्फ्रा के शेयर सैंसेक्स के लाभ वाले पहली 20 कंपनियों के शेयर थे। सैंसेक्स में नुकसान वाली सूची में आईटी वर्ग की चारों बडी कंपनियां शामिल थीं। सर्वाधिक गिरावट सत्यम कंप्यूटर के शेयर में 7.41 प्रतिशत रही। कंपनी का शेयर 22.25 रुपए गिरकर 277.85 रुपए रह गया। इस वर्ग की अग्रणी टीसीएस के शेयर में 7.38 प्रतिशत अर्थात 40.50 रुपए का नुकसान हुआ। कंपनी का शेयर 40 रुपए तक गिरने के बाद 508.20 रुपए पर बंद हुआ। विप्रो और इन्फोसिस टैकनोलोजीस के शेयरों में क्रमश 4.80 तथा 3.32 प्रतिशत की गिरावट आई। स्टरलाईट इंडस्ट्रीज और एसीसी लिमिटेड के शेयर सैंसेक्स के घाटे वाले अन्य शेयर थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शुरुआती कारोबार में गिरकर संभले बाजार