DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमेरिका के राष्ट्रपति बन इतिहास रचा ओबामा ने

डेमोक्रेट पार्टी के उम्मीदवार बराक ओबामा ने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव जीतकर इतिहास रच दिया है। 21साल के अमेरिकी इतिहास में बराक ओबामा पहले अश्वेत राष्ट्रपति हैं। इसके साथ ही 72 साल के मैक्केन ने भी अपनी हार स्वीकार कर ली है।ड्ढr ड्ढr दो वर्ष के चुनाव प्रचार के बाद 47 वर्ष के इलिनोइस के सीनेटर बराक ओबामा ने निर्वाचक मंडल के कुल 538 वोटों में से 338 पर कब्जा किया। सीएनएन के आकलन के अनुसार मैक्केन को निर्वाचक मंडल के 155 वोट हासिल हुए। मैक्केन ने अपनी हार स्वीकारते हुए तमाम अमेरिकियों से आग्रह किया कि वह उनके प्रतिद्वंद्वी ओबामा को जीत की बधाई देने में उनका साथ दें। केन्याई पिता और श्वेत अमेरिकी मां की संतान 47 साल के बराक ओबामा अगले वर्ष 20 जनवरी को अमेरिका के 44वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेंगे। इसके साथ ही रिपब्लिकन पार्टी के मौजूदा राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश के आठ वर्ष के शासन का अंत होगा। ओबामा की इस जीत को मानव अधिकारों के समर्थक अश्वेत नेता मार्टनि लूथर किंग के 45 वर्ष पहले देखे गए समानता के सपन का साकार रूप माना जा रहा है। डेमोक्रेटिक पार्टी का उम्मीदवार बनन की लड़ाई में हिलेरी क्िलंटन को शिकस्त देने वाल करिश्माई नेता बराक ओबामा ने बुश के नेतृत्व को नकारते हुए अमेरिकी कांग्रेस के दोनों सदनो में अपनी पार्टी के बहुमत का विस्तार किया। ओबामा की जीत पर मार्टनि लूथर किंग की पुत्री बेíनस किंग न कहा कि आज अमेरिका में जो कुछ हुआ है उनके पिता को इस पर गर्व होता। भारत-अमेरिका एटमी करार के समर्थक और करीबी सामरिक रिश्ते रखन के हामी बराक ओबामा ने ओहायो पेंसिलवेनिया फ्लोरिडा और केलिफोíनया में शानदार जीत दर्ज की। नई इबारत लिखेगा अमेरिका : ओबामाड्ढr शिकागो (रायटर)। अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति बराक ओबामा ने ऐतिहासिक चुनावी जीत हासिल करने के बाद चरम उल्लास में डूबे अमेरिकियों को संबोधित करते हुए कहा कि बदलाव हो गया है और सभी देशवासियों को आसन्न चुनौतियों से निपटने के लिए कमर कस लेनी चाहिए।ड्ढr अपने गृह नगर शिकागो में उत्साह और खुशी में सराबोर लाखों समर्थकों को संबोधित करते हुए श्री ओबामा ने कहा कि अमेरिकी मतदाताओं ने देश में बदलाव की इबारत लिख दी है अब हम सबको मिलकर सामने खड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार हो जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि अमेरिका में सब कुछ मुमकिन है। आगे का रास्ता बहुत आसान नहीं है और हमारी मंजिल खड़ी और कठिन चढ़ाई वाले पहाड़ की तरह है। ओबामा ने कहा कि हो सकता है हमें अपनी मंजिल को पाने में एक साल या चार साल का कार्यकाल भी कम पड़े लेकिन मुझे पूरा विश्वास है कि अमेरिका सभी चुनौतियों का मुंहतोड़ जवाब देने में सफल होगा। उन्होंने कहा कि मुझे इतना भरोसा पहले कभी नहीं था लेकिन आज मैं जो आत्मविश्वास महसूस कर रहा हूं उसके आधार पर कह सकता हूं कि हम हर बाधा पार कर लेंगे। ओबामा ने कहा कि यह उन लोगों के लिए करारा जवाब है जिन्हें अमेरिकियों की सोच पर शक था। यह सही है कि इस बदलाव में लंबा समय लगा लेकिन आज रात परिवर्तन की जो दास्तान हमने लिखी है वह अमेरिका के लिए अहम पड़ाव साबित होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अमेरिका के राष्ट्रपति बन इतिहास रचा ओबामा ने