DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राहुल को मारी गयी करीब से गोली!

मुंबई में 27 अक्तूबर को कथित एनकाउंटर में मार गये बिहारी युवक राहुल राज की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से नया विवाद खड़ा हो गया है। जेजे अस्पताल के विशेषज्ञ डाक्टर बीजी चिकलकर के मुताबिक राहुल के सिर में पास से गोली मार जाने की आशंका है। क्यंोंकि सिर में गोली से जसे घाव हैं और गनपाउडर के अंश मिले हैं उससे इस आशंका को बल मिलता है। लेकिन डाक्टर चिकलकर के इस सच के उाागर करने से बवाल मच गया है।ड्ढr एसी आशंका जाहिर की जा रही है कि दबाव में आकर जेजे अस्पताल के डीन बीएम सबनीस ने चिकलकर के बयान को झुठला दिया। उनके मुताबिक चिकलकर ने बयान वापस ले लिया है और उन्होंने लिखित रूप से कहा है कि उन्होंने कोई बयान नहीं दिया था। इधर पोस्टमार्टम रिपोर्ट को ले उठ रहे सवालंों पर मुंबई पुलिस आयुक्त हसन गफूर का कहना है कि डॉक्टर के बयान पर कुछ बोलने से पहले वह रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं। रिपोर्ट आने के बाद ही वह आगे की कार्रवाई करंगे। इस बीच यह भी पता चला है कि राहुल को जहां गोली लगी थी उस हिस्से के अंश को जांच के लिए फारेंसिक विभाग को भेजा जायेगा। लेकिन इस पर विवाद खड़ा होने के बाद महाराष्ट्र सरकार इसकी जांच करा रही है। मुख्य सचिव जॉनी जोसेफ के अलावा अपराध शाखा की पुलिस और मजिस्ट्रेट से भी जांच करायी जा रही है। फिलहाल जेजे अस्पताल से पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाहर आने के बाद यह आशंका जाहिर की गयी है कि राहुल को सिर में पास से गोली मारी गयी है। एनकाउंटर में राहुल पर 13 गोलियां दागी गयीं थी, जिसमें से उसे 5 गोलियां लगी थी। इसमें से एक गोली उसके सिर पर लगी है। सिर पर जहां गोली लगी है वह हिस्सा काफी काला है और स्कीन के अंदर बारूद के अंश मिले हैं। सूत्रों कहते हैं कि राहुल को 303 रायफल से गोली मारी गयी थी। राहुल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने से पहले एक नवंबर को राज्य के मुख्य सचिव ने भी पूरी घटना की नाटकीय पुनरावृति करते हुए जांच की थी। उसमें उस बस पर उन यात्रियों को सवार किया गया था जो घटना के दिन मौजूद थे। जॉनी को तीन महिला चश्मदीद गवाहों ने बयान दिया था कि राहुल ने बस के अंदर से गोली नहीं चलायी थी। वह पुलिस से बार बार अनुरोध कर रहा था कि वह सरंडर करने से पहले मीडिया और पुलिस से बात करना चाहता था। मगर उसे मोबाइल उपलब्ध नहीं कराया गया था। राहुल ने कट्टा से एक गोली हवा में जरूर चलायी थी। सूत्रंों का कहना है कि बस पर सवार एक यात्री मनोज को भी गोली राहुल ने नहीं मारी थी बल्कि उसे पुलिस की ही गोली लगी होने की आशंका जाहिर की जा रही है। राहुल के एनकाउंटर के बाद महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने कहा था कि गोली का जवाब गोली से दिया जायेगा। लेकिन इस बयान से वह भी विवादों में फंस गये और इस बयान पर मंत्रिमंडल में भी जमकर हंगामा हुआ।ड्ढr राज्य के सार्वजनिक बांधकाम मंत्री छगन भुजबल के अलावा लगभग सभी मंत्रियों ने पाटील पर जमकर निशाना साधा। इसके बाद पाटील ने कहा कि उन्होंने इस तरह के बयान नक्सलियंों के लिए दिया था। अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नजदीक से गोली मार जाने की आशंका जताने के बाद पाटील के अलावा मुख्यमंत्री विलासराव देशमुख भी कुछ बोलने से बच रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राहुल को मारी गयी करीब से गोली!