अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरडीसीआइएस को एनएमडी एवं आइआइएम पुरस्कार

आरडीसीआइएस सेल को इस वर्ष का एनएमडी एवं आइआइएम पुरस्कार मिला है। संस्थान के कार्यपालक निदेशक प्रभारी जगदीश सिंह समेत छह अधिकारियों को पुरस्कार मिला है। जगदीश सिंह को इस्पात संयंत्रों में निष्पादन में सुधार, नयी इस्पात उद्योगों को विकास तथा आरंडडी योजनाओं के सफल कार्यान्वयन के लिए प्रतिष्ठित ओपी जिंदल स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया है। संस्थान के संचार प्रमुख विश्वजीत राय ने बताया कि कार्यपालक निदेशक जगदीश सिंह ने रक्षा विभाग के लिए डीएमआर प्लेट्स, उच्च क्षमता युक्त एलपीजी इस्पात, रैल वैगन एवं लोको के लिए माइक्रोएलॉय रल व्हील के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।ड्ढr कंपनी के सहायक महाप्रबंधक मृदुल कुमार सरकार को धातुकर्मी पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। उन्होंने बोकारो इस्पात, दुर्गापुर एवं कंपनी में इस्पात निर्माण के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान दिया है। उप महाप्रबंधक संजीव कुमार को युवा धातुकर्मी चुना गया है। उन्होंने माइक्रो एलॉय रल, रोल मेटेरियल्स इन मर्चेट मिल आदि के विकास में योगदान दिया है। उप महाप्रबंधक डॉ लक्ष्मण तिवारी को एस्सार पदक से सम्मानित किया गया है, जबकि सहायक महाप्रबंधक संजय परीदा एवं प्रबंधक ऋषि एस कुमार को मेकॉन पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। ये पुरस्कार 14 नवंबर को नोएडा में होने वाले राष्ट्रीय धातुकर्मी दिवस पर प्रदान किये जायेंगे।संस्थान की यह बड़ी उपलब्धि है : जगदीश सिंहड्ढr रांची। ओपी जिंदल गोल्ड मेडल अवार्ड के लिये चुने गये आरडीसीआइएस (सेल) के कार्यकारी निदेशक जगदीश सिंह ने कहा है कि इस तरह के सम्मान से कर्मचारियों और शोधकर्ताओं का मनोबल और उत्साह बढ़ेगा। संस्थान को और भी ऊंचाइयां मिलेंगी। सेना, स्पेस रिसर्च, रलवे, कंस्ट्रक्शन आदि के सेक्टरों के लिए विशेष स्टील प्रोडक्ट के विकास को लेकर जगदीश सिंह को पहले से ही काफी ख्याति मिलती रही है। हिन्दुस्तान ने जगदीश सिंह की पूर एक पेज लंबी बातचीत ‘हम सेल के ब्रेन - जगदीश सिंह’17 मार्च 2008 को प्रकाशित की थी। सिंह के साथ आरडीसीआइएस के छह अन्य अधिकारियों-कर्मचारियों को भी पुरस्कृत किया जायेगा।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आरडीसीआइएस को एनएमडी एवं आइआइएम पुरस्कार