DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सड़क हादसे में 4 मरे

रारप्पा स्थित मां छिन्नमस्तिके से कलश विसर्जन कर लौट रहे श्रद्धालुओं से भर एक पिकअप वैन के गुरुवार की देर रात राौली घाटी में दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से उसमें सवार लोगों में से पिता-पुत्र समेत चार की मौत हो गई जबकि एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए। दुर्घटनाग्रस्त वैन में सवार सभी श्रद्धालु बख्तियारपुर शहर के हकीकतपुर मुहल्ले के निवासी बताये जाते हैं।ड्ढr ड्ढr शुक्रवार को इस हृदयविदारक घटना की खबर जसे ही बख्तियारपुर पहुंची मृतकों के मुहल्ले में शोक की लहर छा गयी। शुक्रवार को ही सड़क मार्ग से एक अंतेयष्टि में भाग लेने बाढ़ जा रहे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का रास्ता रोककर मृतक के परिानों ने मुआवजे की मांग की। मुख्यमंत्री ने पीड़ित परिवार को यथासंभव सरकारी मदद व घायलों को मुफ्त इलाज का आश्वासन दिया। बाद में कार्यपालक पदाधिकारी ललित मोहन ने मृतक के परिानों को पारिवारिक लाभ योजना के तहत दस-दस हाार रुपये दिये जाने की घोषणा की जबकि वार्ड सदस्य मुरलीधर ने अन्तेष्टि योजना के तहत मृतक के परिानों को पन्द्रह-पन्द्रह सौ रुपये प्रदान किए। बताया जाता है कि बुधवार को मां लक्ष्मी की मूर्ति को विसर्जित करने के बाद मुहल्लेवासी अपने परिानों के साथ लक्ष्मी पूजा में स्थापित कलश का विसर्जन करने रारप्पा गये थे। पिकअप वैन में महिलाएं और बच्चे सहित कुल 36 लोग सवार थे। रारप्पा से लौटते समय राौली घाटी में वैन असंतुलित होकर एक पेड़ से जा टकरायी। इसी बीच पीछे से आ रहे एक दस चक्का वाला लोडेड ट्रक का चालक ने भी ट्रक से अपना संतुलन खो दिया और उसने पेड़ से टकरायी वैन को अपनी चपेट में ले लिया। उसके फलस्वरूप पिकअप वैन सड़क पर ही पलट गयी। इस घटना में रांन प्रसाद उर्फ गोला ठठेरा की जहां घटनास्थल पर ही मौत हो गई वहीं वैन पर सवार उसके पुत्र अकरम (10), जीतेन्द्र उर्फ जीतू व कनीकलाल की मौत पीएमसीएच में इलाज के दौरान हो गई।ड्ढr इस दुर्घटना में एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल भी हुए जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सड़क हादसे में 4 मरे