अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छह माह में जिप की बैठक बुलाने पर सांसद नाराज

तीन महीने की बजाए छह महीने में जिला परिषद की बैठक बुलाए जाने से नाराज सांसद रामकृपाल यादव ने इसके लिए नौकरशाही को दोषी ठहराया। शनिवार को जिला परिषद की सामान्य बैठक शुरू होते ही सांसद और पार्षदों ने इस मामले पर मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी (डीडीसी) को घेरने की कोशिश की और इसके लिए सीधे-सीधे उन्हें दोषी ठहराया। दूसरी ओर डीडीसी ने इस आरोप का खारिा करते हुए कहा कि अध्यक्ष के लिखित अनुरोध पर बैठक बुलायी जाती है और वे अपने मन से बैठक नहीं बुला सकते। बीआराीएफ और 12वें वित्त आयोग की योजनाओं का चयन अभी तक नहीं होने पर पार्षदों ने गहरा रोष व्यक्त किया। डीडीसी ने बताया कि योजना के चयन का जिम्मा अध्यक्ष को सौंपा गया था। बैठक की अध्यक्षता अध्यक्ष शकुंतला देवी ने किया। करीब पांच घंटे चली बैठक में सांसद रामकृपाल यादव, विधायक श्याम राक, ज्ञानेन्द्र सिंह ज्ञानू, मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी राजीव कुमार सिंह, उपाध्यक्ष सुबोध कुमार के अलावा जिला पार्षद मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: छह माह में जिप की बैठक बुलाने पर सांसद नाराज