अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कसाब ने मांगा उर्दू समाचार पत्र

मुंबई हमले में गिरफ्तार पाकिस्तानी आतंकवादी अजमल आमिर कसाब ने न्यायाधीश एमएल तहलियानी की विशेष अदालत के समक्ष बुधवार को एक याचिका दाखिल कर उर्दू समाचार पत्र उपलब्ध कराने की मांग की है। कसाब ने याचिका में कहा है कि उसे उर्दू टाइम्स समाचार पत्र उपलब्ध कराया जाय जिससे वह अपना कुछ समय जेल में पढ़ने में बिता सके। इसके अलावा वह जेल अहाते में टहलने की भी इजाजत मांगी है। कसाब ने कहा है कि वह जेल में अकेले है इसलिए उसे कुछ करने के लिए चाहिए अन्यथा वह दिमागी संतुलन खो सकता है। न्यायाधीश तहलियानी ने आरोपी के वकील अब्बास काजमी से कहा कि जेल में सरकार के खर्च से समाचार पत्र उपलब्ध कराने का कोई कानून नहीं है। यदि आरोपी को समाचार पत्र पढ़ना है तो वह अपने खर्च पर मंगा सकता है। कसाब से न्यायाधीश ने पूछा कि अपने घर में वह प्रतिदिन कौन से समाचार पत्र पढ़ता था तो उसने कहा कि ‘नवाबे वक्त’ कसाब के वकील ने मंगलवार को उर्दू की चार पुस्तकें उसे जेल में पढ़ने के लिए दिलाई थी। काजमी ने बुधवार को कहा कि उदरु पुस्तकें कसाब को अदालत के आदेश के अनुसार ही उपलब्ध कराई गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कसाब ने मांगा उर्दू समाचार पत्र