अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मांगें मनवाने सड़क पर उतरंेगे बंगलाभाषी

सूबे के लगभग पंद्रह लाख बंगलाभाषी अपनी मांगों को लेकर अब सड़क पर उतरेंगे। सत्ता तक अपनी बातों को पहुंचाने के लिए मंगलवार से बिहार बंगाली समिति चरणबद्ध आंदोलन करगा। इस क्रम में राजधानी सहित सूबे के विभिन्न जिलों में धरना दिया जाएगा। इसके बाद 24 से 2नवंबर तक राजधानी स्थित कारगिल चौक पर राज्यस्तरीय धरना होगा जिसमें राज्यभर के बंगलाभाषी शरीक होंगे। बिहार बंगाली समिति के अध्यक्ष डा. दिलीप कुमार सिन्हा ने सोमवार को प्रस कांफ्रंस में बताया कि समिति ने अपनी मांगों को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की है।ड्ढr ड्ढr साथ ही मानव संसाधन के प्रधान सचिव से भी बात की है। समिति ने बंगलाभाषियों से संग्रहित एक लाख रुपए की राशि का चेक बाढ़ पीड़ितों के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया है। डा. सिन्हा ने बताया कि राज्यमें करीब 36 हजार बच्चे बंगला भाषा पढ़ रहे हैं पर शिक्षकोन की संख्या महज 5है। काफी दिनों स बंगला भाषा के शिक्षकों की नियुक्ित नहीं हुई है। उनकी अन्य मांगों में बंगलभाषाी हिन्दू शरणार्थियों को अब तक जमीन की मिल्कियत नहीं द गयी है। विभाजन के बाद करीब दो लाख बंगलाी परिवार यहां आकर बसा है। इन्हें जाति प्रमाणपत्र भी नहीं दिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मांगें मनवाने सड़क पर उतरंेगे बंगलाभाषी