DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोमांचक मुकाबले में जीता किंग्स इलेवन

रोमांचक मुकाबले में जीता किंग्स इलेवन

किंग्स इलेवन पंजाब टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए रविवार को ईडन गार्डंस स्टेडियम में इंडियन प्रीमियर लीग के पांचवें संस्करण के 17वें लीग मुकाबले कोलकाता नाइटराइर्डस टीम को दो रन से हरा दिया। मैच का फैसला अंतिम गेंद पर हुआ।

टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब ने नाइट राइर्डस को 135 रनों का आसान लक्ष्य दिया था। नाइटराइर्डस ने मानविंदर बिसला (27), मनोज तिवारी (20) और देवव्रत दास (नाबाद 35) की उम्दा बल्लेबाजी के दम पर यह मैच अपनी गिरफ्त में कर लिया था लेकिन अंतिम तीन ओवरों में किंग्स इलेवन के गेंदबाजों ने मेजबान टीम से यह मैच छीन लिया।

अंतिम 18 गेंदों पर नाइट राइर्डस को जीत के लिए 24 रन बनाने थे। दमित्री मास्कारेनहास द्वारा फेके गए 18वें ओवर में नाइट राइर्डस के बल्लेबाजों ने 11 रन लेकर अपना काम आसान किया लेकिन 19वें ओवर में प्रवीण कुमार ने सिर्फ चार रन खर्च किए।

अंतिम ओवर में नाइट राइर्डस को छह गेंदों पर नौ रन बनाने थे लेकिन यह टीम तमाम कोशिशों के बावजूद हरमीत सिंह द्वारा फेंके गए इस ओवर में सिर्फ सात रन बना सकी। अंतिम गेंद पर जीत के लिए चार रन बनाने थे लेकिन नाइट राइर्डस के बल्लेबाज एक रन ही बना सके।

नाइटराइर्डस ने हरफनमौला खिलाड़ी जैक्स कैलिस (1) और कप्तान गौतम गम्भीर (22) के विकेट 30 रन के कुल योग पर गंवा दिए थे। इसके बाद तिवारी और बिसला ने तीसरे विकेट के लिए 43 रन जोड़े। बिसला ने 25 गेंदों पर एक चौका और एक छक्का लगाया जबकि तिवारी ने 27 गेंदों पर एक चौका जड़ा। तिवारी का विकेट 73 रन के कुल योग पर गिरने के बाद नाइट राइडर्स ने अपने अगले तीन विकेट 15 रनों पर गंवा दिए।

शाकिब अल हसन (4) और यूसुफ पठान (0) ने निराश किया। दास और रेयान टेन डोशेट (11) ने सातवें विकेट के लिए 40 रन जुटाकर नाइट राइडर्स को मैच में लौटाया था लेकिन किस्मत उसके साथ नहीं थी। डोशेट का विकेट अंतिम ओवर में गिरा।

किंग्स इलेवन की ओर से पीयूष चावला ने तीन विकेट लिए जबकि भार्गव भट्ट को दो विकेट मिले। मास्कारेनहास और हरमीत को एक-एक सफलता मिली।

इससे पहले कोलकाता नाइटराइडर्स के ऑफ स्पिनर सुनील नारायण ने घातक गेंदबाजी करते हुए मात्र 19 रन पर पांच विकेट लेकर किंग्स इलेवन पंजाब को 134 रन पर रोक दिया।

पंजाब की तरफ से मनदीप सिंह ने 34 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 38 तथा डेविड हसी ने 31 गेंदों में एक चौके और एक छक्के के सहारे 32 रन बनाए। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 52 रन की साझेदारी की। इन्हें छोड़कर अन्य कोई बल्लेबाज विकेट पर टिककर नहीं खेल सका।

कप्तान एडम गिलक्रिस्ट (5) एक बार फिर सस्ते में निपट गए। शान मार्श ने 1, पारस डोगरा ने 6, बिपुल शर्मा ने 12 और पीयूष चावला ने नाबाद 13 रन बनाए। दिमित्री मैस्कारेनहास और प्रवीण कुमार खाता खोले बिना आउट हुए।

वेस्टइंडीज की टेस्ट टीम में खेलने का मौका छोड़कर आईपीएल खेलने आए 23 वर्षीय नारायण ने टी20 में अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की। इस युवा स्पिनर ने गिलक्रिस्ट, मार्श, बिपुल, प्रवीण और हरमीत सिंह को पवेलियन का रास्ता दिखाया।

पंजाब की टीम 12वें ओवर तक दो विकेट पर 73 रन बनाकर सुखद स्थिति में थी लेकिन इसके बाद उसने 31 रन के अंतराल में छह विकेट गंवा दिए। निचले क्रम में चावला ने नाबाद 13, हरमीत ने तीन चौकों की मदद से 14 और भार्गव भट्ट ने छक्का जडकर पंजाब के स्कोर को कुछ सम्मान दिया। नारायण के पांच विकेटों के अलावा रजत भाटिया ने 14 रन पर दो विकेट और शाकिब अल हसन ने 26 रन पर एक विकेट लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रोमांचक मुकाबले में जीता किंग्स इलेवन