अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पप्पू को पुरस्कार

पप्पू से स्टार बनने का एक रास्ता क्रिकेट से हो कर जाता है। वैसे हर पुरस्कार बांटने वाला चाहता है कि एक आईपीएल खिलाड़ी उस में फिट कर दिया जाये, अपने आप पुरस्कार का अट्रैक्शन बढ़ जायेगा। जमाना बड़ा खराब आ गया है। आज किसी क्रिकेटर या सीरियल कलाकार को सगा भाई भी शादी ब्याह में बुला ले तो वह सोचता है, कीमत क्या मिलेगी। इतना ही नहीं अगर सही बुकिंग हो जाये तो वह अपने खून के रिश्ते छोड़ व्यवसायिक रिश्ते निभाना ज्यादा जरूरी समझता है। इसे प्रोफेशनलिज्म कहा जाता है। दरअसल पप्पू एक थ्योरी है, इसे समझना आसान नहीं है। जहाँ लोग यह सोच लेते हैं कि बड़ा आदमी बनने से किसी के भीतर का पप्पू निकल गया है वहीं लोग मात खा जाते हैं। किसी के भीतर का संस्कारगत पप्पू कभी नहीं जाता। ऐसे में किसी सम्मान या पुरस्कार की औकात किसी पप्पू द्वारा कमर्शियल वैल्यू देख कर तौली जाती है। पप्पू बखूबी जानता है खाली फ्रेंम में तमगा लगाने और ड्राइंग रूम में मेडल टांगने स कुछ नहीं होता। हमारे देश में ढेरों सम्मान विजाताओं की कहानी छपती है कि कैसे बेचारे सड॥क पर टहल रहे हैं। सो पप्पू हिसाब लगाता है और उसका दिल कहता है, ऐड की कमाई और आईपीएल के चौकों-छक्कों पर नोटों की बरसात और उसके बाद के चियर गर्ल्स के ठुमके ही असली पुरस्कार हैं। बाकी का सम्मान दिखावटी है। हर साल देश में नेशनल प्राइज के तमगे बंट रहे हैं, ऐसे में इन्हें कहाँ तक सम्भाल कर रक्खें। अब तो सामान्यज्ञान की बुकलेट छापने वाले तक इन पुरस्कारों की लिस्ट देने से तौबा करते हैं। पता चला पूरी किताब इस साल के राष्टीय पुरस्कार पाने वालों से ही भर गयी। वैसे राष्ट्रीय पुरस्कार के महत्व को इससे भी समझा जा सकता है कि इसे पाने वालों की संख्या बढ़ रही है और नेशनल कैरेक्टर का ग्राफ नींचे जा रहा है। हाइट है पप्पू कहता है आई ऐम बिजी टु कलेक्ट दिस अवॉर्ड। तुम यह सम्मान मेरे पीए को द कर रिसीव करा लेना, मुझे जरा ठंडा -वंडा बेचने दो या फिर आईपीएल में चौके-छक्के की तैयारी करने दो, जो आज की डेट में असली पुरस्कार हैं। मैं ता कहूं भैया यह पुरस्कार तुम हॉकी और कुश्ती वालों को ही दिया करो, जो इसे संभाल सकें और इस पर गर्व कर जीवन बिता सकें, हमारे जीवन की आवश्यकता सम्मान नहीं मनी है। सो आज की डेट में पप्पू पुरस्कार को धन्य करता है। पुरस्कार पाकर पप्पू धन्य नहीं होता। अत: पप्पू को राष्ट्रीय पुरस्कार निर्रथक है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पप्पू को पुरस्कार