DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

देश में भूकंप के झटके, सुनामी का खतरा टला

देश में भूकंप के झटके, सुनामी का खतरा टला

इंडोनेशिया को हिलाकर रख देने वाले भूकंप के बाद बुधवार को अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह सहित दक्षिण एवं पूर्वी भारतीय राज्यों में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। भारत में सुनामी की आशंका के मद्देनजर जारी चेतावनी कुछ ही घंटों बाद वापस ले ली गई।
 
भूकंप से किसी तरह के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं मिली है। हालांकि, अब भी सतर्कता बरती जा रही है क्योंकि देश के कई हिस्सों में भूकंप के बाद के झटके भी महसूस किए गए हैं। तटीय जिलों को खास तौर पर सावधान रहने को कहा गया है।
 
चेन्नई से मिली सूचना के मुताबिक, चेन्नई पोर्ट ट्रस्ट पर कामकाज फिलहाल बंद कर दिया है। कोलकाता में मेट्रो ट्रेनों के परिचालन में कमी कर दी गई है। तटवर्ती राज्यों में मछुआरों को समुद्र की ओर न जाने की सलाह दी गई है।
 
लिटिल अंडमान, ग्रेट निकोबार और कैंपबेल बे सहित द्वीपसमूह के दक्षिणी हिस्सों से लोगों को सुरक्षित इलाकों की ओर ले जाया गया है। दक्षिणी द्वीप भूकंप के केंद्र से काफी नजदीक हैं।

भूकंप के बाद भारतीय थलसेना ने अपने वायुयानों और पोतों को राहत एवं बचाव कायरें के लिए तैयार कर दिया था। एनडीआरएफ की 12 टीमें भी किसी बुरे हालात से निपटने के लिए तैयार थीं।

चेन्नई के पास स्थित कलपक्कम में मद्रास परमाणु ऊर्जा स्टेशन में काम सामान्य रूप से जारी रहा। हालांकि, सुनामी की चेतावनी जारी होने के बाद स्टेशन में काम बंद करने की कोशिश की गई थी। हालांकि, इस परमाणु संयंत्र को हाई अलर्ट पर रखा गया है।
 
भूकंप के झटके महसूस किए जाने के बाद चेन्नई, बेंगलूर, तिरुवनंतपुरम, कोच्चि, कोलकाता, भुवनेश्वर और गुवाहाटी जैसे शहरों में लोग घबराहट की वजह से घरों और दफ्तरों से बाहर आ गए। मिली सूचना के मुताबिक, कोलकाता में कुछ मकानों में हल्की दरारें आई हैं।
 
आंध्र प्रदेश के तटीय जिलों- विशाखापत्तनम, विजयनगरम और श्रीकाकुलम जिले में भूकंप के झटके महसूस करने के बाद लोग अपने घरों से बाहर निकल आए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:देश में भूकंप के झटके, सुनामी का खतरा टला