DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईरान के तेल उत्पादन में भारी गिरावट के आसार

ईरान के तेल उत्पादन में भारी गिरावट के आसार

ईरान में कच्चे तेल के उत्पादन में इस वर्ष के अंत में लगभग 5,00,000 बैरल प्रतिदिन की गिरावट आने की संभावना है। यह गिरावट ईरान पर लगे प्रतिबंधों के कारण निवेश के अभाव के चलते आएगी। यह बात अमेरिकी ऊर्जा सूचना प्रशासन (ईआईए) ने कही है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, ईआईए ने मंगलवार को जारी अपनी मासिक रपट में कहा कि ईरान का तेल उत्पादन 2011 के अंत में 35.50 लाख बैरल प्रतिदिन था। रपट में कहा गया है कि ईरान के तेल उत्पादन में गिरावट की शुरुआत 2011 की अंतिम तिमाही से हुई थी।

ईआईए ने कहा है कि ईआईए का मानना है कि तेल उत्पादन में इस तीव्र गिरावट से निवेश का अभाव स्पष्ट होता है। स्वाभाविक उत्पादन में गिरावट पर लगाम लगाने के लिए निवेश की जरूरत है।

ईआईए की रपट के अनुसार, ईरान के तेल उत्पादन में निवेश करने वाली कई विदेशी कम्पनियों ने प्रतिबंधों के कारण अपनी गतिविधियां रोक दी है। प्रतिबंधों के कारण इन कम्पनियों का ईरान के साथ व्यापार करना कठिन हो गया है।

ईरान के तेल उत्पादन में इस वर्ष गिरावट के अनुमान के अलावा ईआईए ने सम्भावना जताई है कि 2013 में होने वाली 2,00,000 बैरल प्रतिदिन की अतिरिक्त गिरावट, ओपेक (पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन) के अन्य देशों में होने वाली उत्पादन वृद्धि से पूरी कर कर ली जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ईरान के तेल उत्पादन में भारी गिरावट के आसार