DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब प्रॉपर्टी टैक्स वसूली की तैयारी

रांची नगर निगम अब राजधानीवासियों से प्रॉपर्टी टैक्स वसूलने की तैयारी में है। इसके लिए राजधानी में बने मकानों का सव्रे कराया जायेगा। केंद्र सरकार की जवाहर लाल नेहरू अरबन रिनुअल योजना के तहत नगर निगम द्वारा किये गये एकरारनामे में प्रॉपर्टी टैक्स लागू करने का जिक्र किया गया है। 12 नवंबर को होनेवाली स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में यह प्रस्ताव लाया जायेगा। अगर सहमति बनी, तो प्रस्ताव को नगर विकास विभाग के पास भेजा जायेगा। इस योजना के तहत हर वार्ड, गली, मुहल्ले में बने मकानों की संख्या की जांच की जायेगी।ड्ढr वार्ड में मुहल्लों के नाम सहित मकानों की संख्या की जांच की जायेगी। इसके बाद ही उस पर टैक्स निर्धारित किया जायेगा। इसके अलावा मकानों का उपयोग आवासीय या व्यवासायिक रूप में किया जा रहा है, यह भी आंका जायेगा। सव्रे में यह भी देखा जायेगा कि मकान कितने क्षेत्रफल में बना है। उस मकान का होल्डिंग नंबर है या नहीं। नगर निगम स्टैंडिंग कमेटी की बैठक आजड्ढr होल्डिंग टैक्स बढ़ाने पर भी लाया जायेगा प्रस्तावरांची नगर निगम की स्टैंडिंग कमेटी की बैठक बुधवार को तीन बजे से होगी। अध्यक्षता मेयर रमा खलखो करंगी। इसमें 42 एजेंडों पर चर्चा होगी। इसमें होल्डिंग टैक्स बढ़ाने के प्रस्ताव पर भी चर्चा होगी।ड्ढr वर्तमान में राजधानीवासियों से 43.75 प्रतिशत होल्डिंग टैक्स लिया जाता है। इसे बढ़ाया जायेगा। ऐसे पिछले दिनों नगर विकास विभाग ने होल्डिंग टैक्स के प्रस्ताव को वापस कर दिया था। कहा गया था कि प्रस्ताव में संशोधन कर इसे बोर्ड की बैठक में पारित कर ही भेजा जाये, तभी इस पर विचार किया जायेगा। इसके अलावा जल कर वसूलने का जिम्मा एनजीओ को देने पर चर्चा होगी।ड्ढr शहरी गरीबों के लिए निगम बजट में राशि का उपबंध करने और इससे संबंधित लेखा संधारण अलग से करने के संबंध में चर्चा होगी। जेएनयूआरएम योजना के अंतर्गत ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए प्रत्येक आवास से यूजर चार्ज लेने के संबंध में भी प्रस्ताव लाया जायेगा। कई योजनाओं को पीपीपी मॉडेल पर देने का भी प्रस्ताव लाया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब प्रॉपर्टी टैक्स वसूली की तैयारी