DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सजा पूरी कर चुके पाक कैदियों की रिहाई में देरी का गहरा दुखः SC

सजा पूरी कर चुके पाक कैदियों की रिहाई में देरी का गहरा दुखः SC

सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कहा कि सजा पूरी कर चुके पाकिस्तानी कैदियों की रिहाई में हो रही देरी का उसे गहरा दुख है। कोर्ट ने दोनों देशों की सरकारों से अपील की कि इस तरह के मसलों को उन्हें प्राथमिकता से हल करना चाहिए।

कोर्ट उन 21 पाकिस्तानी कैदियों की सुनावाई के दौरान यह बात कही, जो मानसिक रूप से कमजोर हैं या अन्य विक्लांगता से प्रभावित हैं। इन 21 कैदियों में से 16 मानसिक रूप से कमजोर हैं और 5 गूंगे व बहरे हैं।

जस्टिस आरएम लोढ़ा की बेंच ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि जब इन लोगों ने अपनी सजा पूरी कर ही ली है तो इनको क्या जेल में रखना सही है? क्या दोनों सरकारों को इसे गंभीरता से नहीं लेना चाहिए?

कोर्ट ने केंद्र सरकार को तीन हफ्ते का समय दिया है कि वह बताए कि इन कैदियों को वापस इनके देश भेजने के लिए वह क्या कर रही है या और क्या किए जाने की जरूरत है। कोर्ट ने इस मसले की सुनवाई की अगली तारीख 2 मई रखी है।

कोर्ट ने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि इन कैदियों को डिटेंशन सेंटर में अच्छी सुविधाएं प्रदान की गई हैं, लेकिन जब ये अपने देश जाने के लिए आजाद हैं तो इन्हें यही रोके रखने के पीछे क्या कारण है।

केंद्र के वकील ने कहा कि इन लोगों को तब तक वापस नहीं भेजा जा सकता जब तक इनकी पहचान सुनिश्चित नहीं कर ली जाती। इस पर जज ने सवाल किया कि अगले छह महीने में या एक साल में भी यह समस्या बनी रहेगी, तब सरकार क्या करेगी यह बताए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक कैदियों की रिहाई में देरी का गहरा दुखः SC