DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोल्ड स्टोरचा एक्ट में बदलाव होगा: नागमणि

राज्य के कोल्ड स्टोराों में आलू सड़ने से परशान किसानों की चिंता दूर करने के लिए सरकार ने कई अहम फैसले लिये। ये फैसले कृषि मंत्री नागमणि की अध्यक्षता में मंगलवार को कोल्ड स्टोरा मालिकों के साथ विभागीय अधिकारियों की बैठक में लिये गये। कोल्ड सटोरेज मालिकों ने जहां बिजली की समस्या का रोना रोया तो बैठक में राज्य के कोल्ड स्टोरा एक्ट में बदलाव की आवश्यकता भी जताई गई। कृषि मंत्री ने अधिकारियों को वर्तमान एक्ट की समीक्षा कर जरूरी बदलाव का प्रस्ताव तैयार करने का निर्देश दिया। उन्होंने जिला उद्यान पदाधिकारियों को तीन दिनों में राज्यभर के उन किसानों की सूची बनाने का निर्देश दिया जिनके आलू सड़े हैं। सूची में किसानों के नाम के अलावा कोल्ड स्टोरा का नाम और सड़े हुए आलू की मात्रा की चर्चा भी करनी है।ड्ढr ड्ढr बाजार में आलू की कीमत में गिरावट को देखते यह फैसला भी लिया गया कि दूसर राज्यों से आने वाले आलू पर रोक लगाई जाय। इसके लिए इन्ट्री टैक्स लगाने का विचार आया लेकिन मंत्री ने इस मुद्दे् की गहन समीक्षा कर कानूनी प्रावधान के अनुसार प्रस्ताव तैयार करने को कहा ताकि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस पर बात की जा सके। मंत्री ने कोल्ड स्टोरा मालिकों की मांग पर भी ध्यान देते हुए कहा कि अन्य राज्यों में कोल्ड स्टोराों के लिए निर्धरित बिजली दर का रिकार्ड मंगाकर दें ताकि इसकी समीक्षा की जा सके। सूबे में कोल्ड स्टोराों की संख्या बढ़ाने पर भी चर्चा हुई। बैठक में किसान आयोग के अध्यक्ष रामाधार के अलावा प्रधान सचिव भानु प्रताप शर्मा, उद्यान निदेशक अरविन्दर सिंह, भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष सत्येन्द्र नारायण कुशवाहा और कोल्ड स्टोरा मालिक संघ के अध्यक्ष और प्रतिनिधि शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कोल्ड स्टोरचा एक्ट में बदलाव होगा: नागमणि