DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनमोहन सिंह को पाक यात्रा का न्योता देंगे जरदारी

मनमोहन सिंह को पाक यात्रा का न्योता देंगे जरदारी

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी रविवार को नई दिल्ली में अपनी मुलाकात के दौरान प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को साल के अंत में अपने देश आने का न्योता देंगे।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्दुल बासित ने जरदारी के दिन भर के भारत दौरे की पूर्व संध्या पर यह बात कही। जरदारी अपनी यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री के रेस कोर्स रोड आवास पर उनके साथ वार्ता करेंगे। इसके बाद दोपहर का भोज होगा।

बासित ने कहा कि राष्ट्रपति जरदारी प्रधानमंत्री सिंह को साल के अंत में पाकिस्तान की यात्रा के लिए न्योता देंगे। यह पहला मौका होगा, जब शिखर बैठक के लिए समय सीमा का प्रस्ताव किया जाएगा।

हालांकि, सिंह ने पहले ही न्योता स्वीकार करते हुए स्पष्ट कर दिया था कि वह तभी यात्रा करेंगे, जब कोई ठोस नतीजा निकलने की संभावना होगी। प्रधानमंत्री ने सोल में हुए परमाणु सुरक्षा सम्मेलन से लौटते हुए यह बात कही थी। बासित ने जरदारी के भारत दौरे को अहम बताते हुए कहा कि यात्रा के पीछे कोई एजेंडा नहीं है, हालांकि दोनों नेताओं के बीच सभी द्विपक्षीय मुद्दों और क्षेत्रीय हालात पर चर्चा होने की उम्मीद है।

बासित ने कहा कि जहां तक वार्ता की बात है, कोई एजेंडा नहीं है। लेकिन जब दोनों नेता मिलेंगे, तब पाकिस्तान और भारत के बीच द्विपक्षीय मुद्दों तथा क्षेत्रीय हालात पर चर्चा होगी।

वर्ष 2005 के बाद भारत का दौरा करने वाले जरदारी पाकिस्तान के प्रथम राष्ट्राध्यक्ष होंगे। इससे पहले, पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ ने भारतीय नेतत्व के साथ वार्ता के लिए भारत का दौरा किया था।

पाकिस्तान ने जरदारी की इस यात्रा को निजी यात्रा बताया है, जिसका उद्देश्य अजमेर में ख्वाजा मुइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर जियारत करना है। जरदारी ने इस दरगाह पर अपनी पत्नी बेनजीर भुट्टो के साथ पहले भी जियारत की है। पाकिस्तानी राष्ट्रपति के साथ उनके 23 साल के बेटे बिलावल भुट्टो जरदारी भी होंगे।

हालांकि, बासित ने बताया कि उनके पास इस बात की जानकारी नहीं है कि बिलावल राहुल गांधी से मिलेंगे या नहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रविवार को दिल्ली आएंगे जरदारी, खटास होगी दूर