DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सपा मुसलमानों को सत्ता में भागीदारी दे: बुखारी

सपा मुसलमानों को सत्ता में भागीदारी दे: बुखारी

जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने समाजवादी पार्टी पर उत्तर प्रदेश में मुसलमानों को सत्ता एवं प्रशासन में बराबरी की भागीदारी नहीं देने का आरोप लगाते हुए राज्य विधान परिषद के चुनाव में अपने दामाद उमर अली खां की उम्मीदवारी वापस करने की पेशकश की है।
 
बुखारी ने सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव को आज भेजे पत्र में लिखा कि उत्तर प्रदेश में मुसलमान लगभग 20 प्रतिशत हैं और यादव सात प्रतिशत। फिर भी मुसलमानों को सत्ता में बराबरी की भागीदारी मिले इसको लेकर ही उन्होंने पिछले विधानसभा चुनाव में सपा का समर्थन किया था लेकिन सपा ने भी अन्य राजनीतिक दलों की तरह मुसलमानों का वोट चाहा लेकिन उन्हें सत्ता में भागीदारी देने को तैयार नहीं है। राज्यसभा चुनाव में भी उसने केवल एक सीट मध्यप्रदेश के एक अनजान मुसलमान को दी। उन्होंने पूछा कि क्या सपा को उत्तर प्रदेश में इस सीट के लिए कोई भी योग्य मुसलमान नहीं मिला।
 
इमाम बुखारी ने कहा कि सपा ने उत्तर प्रदेश विधान परिषद के लिए सात नामों की जो सूची जारी की है उनमें भी केवल एक मुसलमान (उमर अली खां) का नाम शामिल है। उन्होंने कहा कि मेरे दामाद को एक सीट देकर मुसलमानों के अधिकारों को समाप्त नहीं किया जा सकता। अगर आप मुसलमानों को सत्ता और प्रशासन में ईमानदारी के साथ बराबर की भागीदारी नहीं देते हैं तो मैं उमर अली खां को सीट की पेशकश को शुक्रिया के साथ इनकार करता हूं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सपा मुसलमानों को सत्ता में भागीदारी दे: बुखारी