अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्यार्थी परिषद ने पीयू के कॉलेजों को बंद कराया

बांग्लादेशी घुसपैठ के विरोध में चलाये जा रहे आंदोलन के अन्तर्गत राष्ट्रव्यापी कॉलेज बंद के समर्थन में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के सैकड़ों छात्रों ने बुधवार को पटना विवि के सभी कॉलेजों को बंद करा दिया। इधर प्रदेश मंत्री राजेश सिन्हा ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि पूर बिहार में बंद का व्यापक असर रहा। अनेक जगहों पर सड॥क जाम और गिरफ्तारियां दी गईं। छात्रों ने पहले पटना लॉ कॉलेज को बंद कराया। इसके बाद समर्थकों ने साइंस कॉलेज, पटना कॉलेज, वाणिज्य महाविद्यालय, दरभंगा हाऊस, बीएन कॉलेज, मगध महिला कॉलेज, जेडी वीमेंस कॉलेज, एएन कॉलेज सहित कई कॉलेजों में जाकर कक्षाएं बंद करा दीं ।ड्ढr ड्ढr आक्रोशित छात्रों ने कॉलेज के विभागों को जबरन बंद करा दिया। छात्रों ने कॉलेज के सभी मुख्यद्वार पर बंद का बैनर लगा रखा था। प्रदर्शन का नेतृत्व परिषद् के प्रदेश मंत्री राजेश सिन्हा ने किया। छात्रों ने बांग्लादेशी घुसपैठ के लिए केन्द्र सरकार को जिम्मेदार बताया। उन्होंने केन्द्र सरकार को अविलम्ब इन घुसपैठियों को कठोर कानून बनाकर देश से बाहर करने की मांग की। कॉलेज परिसर में पुलिस के रहते बंद समर्थकों ने जमकर हंगामा किया। छात्र नेताओं ने कहा कि देश में हाल ही में असम के चार प्रमुख शहरों में सीरियल बम ब्लास्ट, त्रिपुरा में बम विस्फोट, उदालगुड़ी में बोडो पर अत्याचार में इन्ही बांग्लादेशी घुसपैठियों के शामिल होने से अब कोई संदेश नहीं रह गया है। बंद कराने वालों में परिषद् के मृत्युजंय कुमार, रवि शाण्डिल्य, अनिरुद्ध पासवान, पंका कुमार, रोहित कुमार, सुनील सिंह, राजीव मिश्रा, हिमांशु यादव, अमृतांशु शेखर, सव्रेश्वर कुमार, उमाशंकर भारती आदि शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विद्यार्थी परिषद ने पीयू के कॉलेजों को बंद कराया