अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली: न्यायालयों में शाम को भी होगी आर्डर-आर्डर

गुजरात तमिलनाडु सहित देश के कुछ न्यायालय के बाद अब दिल्ली में भी शाम की पाली के न्यायालय शुरु हो गए हैं। तीन वर्ष के इंतजार के बाद दिल्ली में अन्तत: बुधवार से शाम की पाली के न्यायालय शुरु हो गए हैं। फिलहाल दिल्ली के दो अधीनस्थ न्यायालयों में शाम पांच से सात बजे तक यह पालियां चलेगी तथा प्रारंभ में इनमें चैक बाउंस के मामलों की सुनवाई की जाएगी। इनमें वित्तीय संस्थानों द्वारा 25 हजार रुपए तक के चैक बाउंस वाले मामलों की सुनवाई होगी। गौरतलब है कि गुजरात देश का पहला ऐसा राय है जहां शाम की पाली के न्यायालयों की नवम्बर 2006 में शुरुआत हुई बाद में तमिलनाडु सहित कुछ अन्य रायों में भी इसे शुरु किया गया। विधि विशेषज्ञों के अनुसार देश के न्यायालयों में मुकदमों के निरंतर बढ़ते अंबार के मद्देनजर इस तरह के दूसरी पाली के न्यायालयों को जल्द मुकदमें निपटाने की दिशा में एक अच्छा कदम माना जा रहा है। रायों के मुख्यमंत्रियों तथा मुख्य न्यायाधीशों ने अप्रैल 2006 में हुई बैठक में इस तरह के न्यायालयों के गठन के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई थी। इससे पूर्व केन्द्रीय विधिमंत्री हंसराज भारद्वाज ने भी इस तरह के न्यायालयों की स्थापना का सुझाव दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दिल्ली: न्यायालयों में शाम को भी होगी सुनवाई