DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गणेश बाबू के बताए रास्तों पर चलने की जरूरत : पटेल

जिस तरह हर स्वतंत्रता सेनानी अपने परिवार की बजाय पूर देश की उन्नति के लिए कुर्बानी दी है या अंग्रजों की यातनाएं सही है। उसी तरह सूबे की प्रगति के लिए जात-पांत परिवार को भूलकर पूर बिहार के लोगों को एकजुट होगा होगा और तभी पूरा मुल्क भी प्रगतिशील देशों की सवरेत्तम सूची में होगा। उक्त बातें सूबे के ग्रामीण कार्य मंत्री वृषिण पटेल ने बिहटा के पैनाल गांव में स्वतंत्रता सेनानी सह सहकारिता के जनक स्व. गणेश सिंह की छठी पुण्यतिथि समारोह में कहीं। उन्होंने महाराष्ट्र व असम की घटना को शर्मनाक बताते हुए एकजुटता का परिचय देने व मुसीबत के अवसर में बदलने के लिए लोगों को आह्वान किया। साथ ही इसके लिए गणेश बाबू जैसे स्वतंत्रता सेनानी के बताए रास्तों पर चलने की जरूरत बताई। दस हाार के लिए विवाहिता को घर से निकालाड्ढr खुसरूपुर (सं.सू.)। दस हजार रुपए व सोने की चेन के लिए विवाहिता को ससुराल वालों ने प्रताड़ित कर घर से निकाल दिया। मामला थाने के बड़ा हसनपुर गांव का है। इस संबंध में विवाहिता ललिता कुमारी के पिता गुप्ता सिंह ने थाने में प्राथमिकी दर्ज कर अपनी बेटी के ससुराल वालों पर आरोप लगाया है कि दहेज में दस हजार रुपए व सोने की चेन न मिलने से उनकी पुत्री को शुक्रवार को ससुराल वालों ने प्रताड़ित कर घर से निकाल दिया। मजदूरों का खाता खोलने को लगा शिविरड्ढr पालीगंज (सं.सू.)। नरगा के मजदूरों का खाता खोलने को डाक विभाग ने विशेष शिविर लगाया है। सहायक डाक अधीक्षक उमेशचन्द्र श्रीवास्तव ने बताया कि शुक्रवार को 700 मजदूरों के खाते खोले गए। वहीं प्रोग्राम अफसर आलोक रंजन ने बताया कि यह शिविर एक हफ्ते तक चलेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गणेश बाबू के बताए रास्तों पर चलने की जरूरत : पटेल