DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रविवार को होगा भारत और पाकिस्तान में मुकाबला

रविवार को होगा भारत और पाकिस्तान में मुकाबला

बांग्लादेश के हाथों मिली हार से स्तब्ध भारतीय टीम को रविवार को एशिया कप के लीग मैच में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ हर हालत में जीत दर्ज करनी पड़ेगी जबकि स्लॉग ओवरों में गेंदबाजी चिंता का सबब बनी हुई है।
    
भारतीय टीम के लिए यह करो या मरो का मुकाबला है। बांग्लादेश से मिली अप्रत्याशित हार ने टूर्नामेंट में उसके समीकरण बिगाड़ दिए हैं। सचिन तेंदुलकर ने शुक्रवार को अपना बहुप्रतीक्षित सौवां अंतरराष्ट्रीय शतक बनाया लेकिन हार ने भारतीयों का मजा किरकिरा कर दिया। उन्हें जल्दी आत्ममंथन करके इस हार को पीछे छोड़ते हुए बेहतर खेल दिखाना होगा।
    
दूसरी ओर बांग्लादेश और श्रीलंका को हराकर फाइनल में पहुंच चुके पाकिस्तान पर कोई दबाव नहीं होगा। भारतीय टीम करारी हार झेलने के बाद बेहतर प्रदर्शन करती है और यह देखना होगा कि महेंद्र सिंह धौनी एंड कंपनी रविवार को चिर प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ ऐसा कर पाती है या नहीं।
    
पाकिस्तान के खिलाफ तेंदुलकर का रिकॉर्ड अच्छा रहा है और रविवार को भी वह लय कायम रखने की कोशिश करेंगे। ऑस्ट्रेलियाई पिचों पर औंधे मुंह गिरे भारतीय बल्लेबाजों ने एशिया कप में अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन गेंदबाजी चिंता का विषय है।
     
तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार, इरफान पठान और विनय कुमार डैथ ओवरों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाये हैं जबकि स्पिनर आर अश्विन और रविंदर जडेजा भी नाकाम रहे। भारत को गेंदबाजी में अपनी कमजोरियों से तेजी से उबरना होगा। गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन के बावजूद धौनी ने उनका बचाव करते हुए कहा कि वे अपनी गलतियों से ही सीखेंगे।
    
धौनी ने कहा कि गेंदबाजों के पास प्रतिभा की कमी नहीं है। उन्हें रणनीति पर अमल करना सीखना होगा। वे गलतियों से ही सीखेंगे। बांग्लादेश के खिलाफ उन्होंने दबाव महसूस किया। उन्होंने कहा कि बांग्लादेश ने बेहतरीन खेल दिखाया। पॉवरप्ले की शुरूआत में ही हमारे गेंदबाज दबाव के सामने झुक गए। कुछ रन और बनाए होते तो हालात दीगर होते।
   
भारत के शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों ने रन बनाए लेकिन ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद रोहित शर्मा यहां भी नाकाम रहे। उनकी जगह मनोज तिवारी को मौका दिया जा सकता है जो ऑस्ट्रेलिया में भी एक भी मैच नहीं खेल सके।

तेज गेंदबाज विनय कुमार को चोट के कारण शुक्रवार के मैच में बाहर रहना पड़ा था। उनका खेलना भी अभी तय नहीं है। उनके नहीं खेलने पर महंगे साबित हुए अशोक डिंडा को ही बरकरार रखना पड़ेगा।
     
अपने दोनों मैच जीतने के बावजूद पाकिस्तानी टीम भी समस्याओं से घिरी है। उसके बल्लेबाज लगातार अच्छा नहीं खेल पा रहे। सलामी बल्लेबाज मोहम्मद हाफिज अच्छे फॉर्म में है लेकिन नासिर जमशेद अच्छा नहीं खेल पा रहे हैं। यूनिस खान भी प्रभावी प्रदर्शन नहीं कर पाये हैं।
    
पाकिस्तान के गेंदबाज जबर्दस्त फॉर्म में है। स्पिनर सईद अजमल ने खास तौर पर अच्छा प्रदर्शन किया है। तेज गेंदबाज उमर गुल और ऐजाज चीमा ने भी विकेट लिए हैं। पाकिस्तानी कप्तान मिसबाह उल हक ने कहा कि दबाव भारत पर है और वे इस मैच को 22 मार्च के फाइनल की तैयारी के तौर पर देख रहे हैं।

टीमें :
भारत
: महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान), विराट कोहली, गौतम गंभीर, सचिन तेंदुलकर, मनोज तिवारी, सुरेश रैना, रोहित शर्मा, आर अश्विन, अशोक डिंडा, रविंदर जडेजा, प्रवीण कुमार, इरफान पठान, युसूफ पठान, राहुल शर्मा, आर विनय कुमार।

पाकिस्तान : मिसबाह उल हक (कप्तान), अब्दुर रहमान, ऐजाज चीमा, असद शफीक, अजहर अली, हम्माद आजम, मोहम्मद हाफिज, नासिर जमशेद, सईद अजमल, सरफराज अहमद, शाहिद अफरीदी, उमर अकमल, उमर गुल, वहाब रियाज, यूनिस खान।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रविवार को होगा भारत और पाकिस्तान में मुकाबला