DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

70 हजार तक बढ़ेंगी कारों की कीमतें

70 हजार तक बढ़ेंगी कारों की कीमतें

इस बार के बजट में शुल्क बढ़ाने के कारण कार खरीदना महंगा हो गया है। मारुति, सुजुकी, महिंद्रा एंड महिंद्रा और होंडा सिएल कार्स इंडिया अपनी कारों की कीमतें 70,000 रुपए तक बढ़ाने का फैसला किया है।

मारुति सुजुकी इंडिया के प्रबंध कार्यकारी अधिकारी (विपणन और बिक्री) मयंक पारीख ने कहा कि हम अपने सभी उत्पादों की कीमतें बढ़ाएंगे और उत्पाद शुल्क का सारा बोझ ग्राहकों पर डाला जाएगा। फिलहाल, हम तय कर रहे हैं कि कीमतों में किस हद तक वृद्धि की जाए।

महिंद्रा एंड महिंद्रा ने भी कहा कि इससे सभी किस्म के उत्पादों की कीमत बढ़ेगी। महिंद्रा एंड महिंद्रा के अध्यक्ष (आटोमोटिव और कृषि उपकरण क्षेत्र) पवन गोयंका ने कहा मौजूदा आर्थिक परिदृश्य और देश के राजस्व घाटे की स्थिति के मद्देनजर उत्पाद शुल्क बढ़ने की पहले से आशंका थी। हालांकि उद्योग को इससे खुशी नहीं होगी, लेकिन हमें इसे स्वीकार करना होगा।

उन्होंने कहा कि उद्योग ने उत्पाद शुल्क में बढ़ोतरी का सारा बोझ ग्राहकों पर डाला जाएगा। गोयंका ने कहा कि हाल के दिनों में लागत बढ़ गई है। इसके मद्देनजर हम वाहनों में दो से तीन फीसदी की बढ़ोतरी करेंगे, जिसका मतलब होगा कि कंपनी की कारें 6,000 रुपए से 30,000 रुपए तक महंगी हो जाएंगी।

उन्होंने कहा कि कंपनी अपने ट्रैक्टरों की कीमत में भी 5,000 से 6,000 रुपए तक की बढ़ोतरी होगी। इधर होंडा सिएल कार्स इंडिया के वरिष्ठ उपाध्यक्ष ज्ञानेश्वर सेन ने कहा कि स्थानीय तौर पर विनिर्मित सभी कारों की कीमत बढ़ेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:70 हजार तक बढ़ेंगी कारों की कीमतें